उत्तर भारत में अभी 3 दिन जारी रहेगा कड़ाके की ठंड और घने कोहरे का कहर, IMD ने मौसम पर जारी किया अपडेट

आईएमडी ने पूर्वानुमान जताया है कि शनिवार और रविवार को उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, पश्चिम उत्तर प्रदेश और ओडिशा के अलग-अलग हिस्सों में और शनिवार को बिहार में शीतलहर की स्थिति की संभावना है।

उत्तर भारत में अभी 3 दिन जारी रहेगा कड़ाके की ठंड और घने कोहरे का कहर
उत्तर भारत में अभी 3 दिन जारी रहेगा कड़ाके की ठंड और घने कोहरे का कहर
user

नवजीवन डेस्क

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने शुक्रवार को कहा कि अगले तीन दिनों के दौरान दिल्ली, पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में घने से बहुत घना कोहरा जारी रहने की उम्मीद है। इसी तरह की स्थिति उत्तर प्रदेश में पांच दिनों तक रहेगी। आईएमडी ने ठंड के मौसम से कोई राहत नहीं मिलने का हवाला देते हुए, पूर्वानुमान जताया है कि अगले दो दिनों के दौरान उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड जारी रहेगी। इसके बाद कुछ राहत मिलने के आसार हैं।

आईएमडी ने शुक्रवार को अपने दैनिक बुलेटिन में कहा कि उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली के मैदानी इलाकों के अधिकांश हिस्सों, उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों, उत्तर-पश्चिमी राजस्थान और मध्य प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में न्यूनतम तापमान तीन-छह डिग्री सेल्सियस के बीच है।


आईएमडी ने कहा, "राजस्थान, मध्य प्रदेश के शेष हिस्सों, बिहार, झारखंड और उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल के अधिकांश हिस्सों में न्यूनतम तापमान -10 डिग्री सेल्सियस के बीच है।" उत्तराखंड, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के मैदानी इलाकों के कई हिस्सों और बिहार तथा उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल के अलग-अलग हिस्सों में तापमान सामान्य से दो-चार डिग्री सेल्सियस नीचे है। शुक्रवार को सबसे कम न्यूनतम तापमान 2.7 डिग्री सेल्सियस हिसार (हरियाणा) में दर्ज किया गया।

आईएमडी ने पूर्वानुमान जताया है कि शनिवार और रविवार को उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, पश्चिम उत्तर प्रदेश और ओडिशा के अलग-अलग हिस्सों में और शनिवार को बिहार में शीतलहर की स्थिति की संभावना है। आईएमडी ने कहा कि शुक्रवार रात से रविवार सुबह के दौरान उत्तराखंड में अलग-अलग स्थानों पर और शुक्रवार रात से शनिवार सुबह के दौरान पश्चिम उत्तर प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर पाला पड़ने की उम्मीद है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;