कड़ाके की सर्दी, कोहरे की मार, दिल्ली समेत ठिठुरा पूरा उत्तर भारत, 7 डिग्री के नीचे गिरा पारा, जानें कब मिलेगी राहत?

मौसम विभाग के मुताबिक, 10 जनवरी तक दिल्ली के अधिकतम तापमान में पांच डिग्री सेल्सियस तक की बढ़त हो सकती है। पारा 17 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर भारत में हाड़ कंपा देने वाली सर्दी पड़ने लगी है। दिल्ली, हरियाणा, रजास्थान, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और पंजाब समेत कई राज्यों में सर्दी से लोग ठिठुर रहे हैं। देश की राजधानी दिल्ली में तापमान 7 डिग्री से नीचे चला गया है। लोग कड़ाके की सर्दी से बचने के लिए अलाव का सहारा ले रहे हैं।

गिरा पारा, बढ़ी सर्दी

मौसम विभाग के अनुसार, दिल्ली के सफदरजंग वेधशाला में अधिकतम तापमान 12.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से 6.8 डिग्री नीचे है। आईएमडी के मुताबिक, अगर अधिकतम तापमान मौसम के सामान्य तापमान से 4.5 से 6.4 डिग्री नीचे चला जाता है तो ठंडा दिन घोषित किया जाता है। अगर मौसम के लिए तापमान सामान्य से 6.5 डिग्री कम हो तो गंभीर ठंडा दिन घोषित किया जाता है। अगले अगले 3 से 4 दिनों तक दिल्लीवासियों को राहत मिलती दिखाई नहीं दे रही है।


पंजाब के पटियाला में तापमान 10.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से 8.1 डिग्री कम है। मध्य प्रदेश के भोपाल में अधिकतम तापमान 16.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से 7.3 डिग्री कम है।

कड़ाके की सर्दी से कब मिलेगी राहत?

मौसम विभाग के मुताबिक, गर्म और नम दक्षिण-पश्चिमी हवाओं से रविवार के बाद न्यूनतम और अधिकतम तापमान में 2-4 डिग्री की वृद्धि होने की संभावना है। मध्य प्रदेश, राजस्थान, दक्षिणी हरियाणा और दक्षिणी उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में अगले हफ्ते की शुरुआत में हल्की से बहुत हल्की बारिश हो सकती है। पंजाब, हरियाणा और उत्तरी राजस्थान के कुछ हिस्सों में घने से बहुत घने कोहरे की संभावना है।


मौसम विभाग के मुताबिक, 10 जनवरी तक दिल्ली के अधिकतम तापमान में पांच डिग्री सेल्सियस तक की बढ़त हो सकती है। पारा 17 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है। बारिश की वजह से मौसम में बदलाव हो सकता है। इससे आसमान साफ होगा, जिससे स्थिति में सुधार हो सकता है।

ट्रेन-विमान संचालन पर कोहरे की मार

घने कोहरे का असर विमान और ट्रेन संचालन पर पड़ा है। गुरुवार को दिल्ली आने वाली कम से कम 26 ट्रेनें देरी से चल रही थीं। साथ ही कोहने ने विमानों के संचालन को भी प्रभावित किया। दर्जनों उड़ानों में देरी देखी, जिससे यात्री परेशान हुए।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;