शाहजंहापुर केस: चिन्मयानंद को सरंक्षण दे रही योगी सरकार? गिरफ्तारी नहीं होने पर प्रियंका ने उठाए गंभीर सवाल

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने आरोप लगाया कि यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार रेप के आरोपी और बीजेपी नेता स्वामी चिन्मयानंद को उसी तरह से संरक्षण दे रही है जैसे उसने उन्नाव मामले के आरोपी कुलदीप सिंह सेंगर को दिया था।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

शाहजहांपुर में लॉ की एक छात्रा से रेप के आरोपी पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता स्वामी चिन्मयानंद की तबियत बिगड़ने के बाद उन्हें शाहजहांपुर के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। चिन्मयानंद का उनके मुमुक्षु आश्रम में डॉक्टरों की एक टीम इलाज कर रही थी, जहां वे 13 सितंबर से नजरबंद हैं। चिन्मयानंद को बुधवार को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया।

शाहजंहापुर केस: चिन्मयानंद को सरंक्षण दे रही योगी सरकार? गिरफ्तारी नहीं होने पर प्रियंका ने उठाए गंभीर सवाल

वहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर बीजेपी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि उन्नाव बलात्कार मामले में बीजेपी सरकार और पुलिस की लापरवाही और आरोपी को सरंक्षण दिए जाने का हश्र सबके सामने है। अब बीजेपी सरकार और यूपी पुलिस शाहजहांपुर मामले में वही दुहरा रही है। पीड़िता भय में है। लेकिन बीजेपी सरकार पता नहीं किस चीज का इंतजार कर रही है।”

कांग्रेस ने पूछा है कि आखिर बीजेपी सरकार चिन्मयानंद को बचाने में क्यों लगी है? कांग्रेस ने ट्वीट कर लिखा, ‘बीजेपी के नेता चिन्मयानंद जितने लंबे समय तक बाहर रहंगे उतना ही सबूतों के साथ छेड़छाड़ करेंगे और उसे मिटाएंगे। बीजेपी सरकार चिन्मयानंद को क्यों बचा रही है?’

वहीं चिन्मयानंद का इलाज कर रहे मुख्य स्वास्थ्य अधीक्षक एमपी गंगवार ने कहा, “बुधवार को उनकी तबियत बिगड़ने के बाद, उन्हें मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है और उनका इलाज वार्ड संख्या आठ में चल रहा है।”

चिन्मयानंद को क्रोनिक डायरिया है। उन्होंने सोमवार रात बेचैनी की शिकायत की थी तब डॉक्टरों को बुलवाया गया था। इससे कुछ ही घंटों पहले कानून की छात्रा ने कोर्ट में अपना रिकॉर्डेड बयान दर्ज कराया था। छात्रा ने चिन्मयानंद पर उसका बार-बार दुष्कर्म करने और उसे ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया था।

छात्रा ने बुधवार को कहा था कि अगर चिन्मयानंद को गिरफ्तार नहीं किया गया तो उसकी जान को खतरा हो सकता है। उसने कहा कि उसे रिकॉर्डेड बयान दर्ज कराए 15 दिन हो चुके हैं लेकिन विशेष जांच टीम (एसआईटी) ने आरोपी को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया है। जांच टीम के एक सदस्य ने नाम गोपनीय रखने की शर्त पर बताया कि वे आगे की कार्रवाई शुरू करने से पहले चिन्मयानंद के ठीक होने का इंतजार करेंगे।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

Published: 19 Sep 2019, 3:59 PM
लोकप्रिय