जज लोया की मौत की जांच SIT से कराने की मांग, शिवसेना (यूबीटी) नेता बोले- सच्चाई सामने आनी चाहिए

दानवे ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि जज लोया की नागपुर में (1 दिसंबर 2014) रहस्यमय परिस्थितियों में मौत हो गई थी। उनकी मौत की एसआईटी जांच कराकर सच्चाई सामने आनी चाहिए।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

शिवसेना (यूबीटी) के नेता प्रतिपक्ष (परिषद) अंबादास दानवे ने दिवंगत सीबीआई न्यायाधीश बी.एच. लोया की मौत की जांच के लिए एक विशेष जांच दल (एसआईटी) की मांग की है, इसमें गृह मंत्री अमित शाह का नाम भी शामिल है।

विधानमंडल के बाहर मीडियाकर्मियों से बात करते हुए, दानवे ने कहा कि सेलेब मैनेजर दिशा सालियान की मौत के मामले में एसआईटी की मांग हो रही है। उन्होंने कहा कि सालियान मामले में पहले ही कई जांच हो चुकी हैं लेकिन कुछ नहीं मिला और यहां तक कि उनके परिवार ने भी नतीजे पर संतोष व्यक्त किया है।


दानवे ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि जज लोया की नागपुर में (1 दिसंबर 2014) रहस्यमय परिस्थितियों में मौत हो गई थी। उनकी मौत की एसआईटी जांच कराकर सच्चाई सामने आनी चाहिए। पलटवार करते हुए दानवे ने नौ साल पहले नागपुर में जज लोया की मौत की एसआईटी जांच की मांग की है।

कांग्रेस-एनसीपी (शरद पी.) और शिवसेना (यूबीटी) के एमवीए सहयोगियों ने राज्य सरकार पर 2024 में होने वाले आगामी नागरिक, संसद और विधानसभा चुनावों से पहले विपक्षी नेताओं को परेशान करके प्रतिशोध का आरोप लगाया है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;