मध्य प्रदेश: नौकरी से निकाले जाने का विरोध कर रहे कोरोना वॉरियर्स पर 'शिव राज' का लाठीचार्ज

मध्य प्रदेश में नौकरी से निकाले जाने का विरोध कर रहे कोरोना वॉरियर्स पर पुलिस ने जमकर लाठीचार्ज किया। कोरोना वॉरियर्स मुख्यमंत्री से मिलकर अपनी मांगे सामने रखना चाहते थे।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

मध्य प्रदेश में कोरोना वॉरियर्स पर शिव'राज में लाठियां बरसाई जा रही हैं। इन कोरोना वॉरियर्स की मांग है कि उन्हें नौकरी से न निकाला जाए। ध्यान रहे कि कोरोना वायरस के संक्रमण की शुरुआत में जब हर कोई एक-दूसरे से दूर भाग रहा था तो यही कोरोना वॉरियर्स संक्रमित लोगों की पहचान कर उनका इलाज कर रहे थे। लेकिन इन्हीं पर अब मध्य प्रदेश की बीजेपी सरकार अत्याचार कर रही है।

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता कमलनाथ ने इस कार्रवाई के लिए शिवराज सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि जहां पूरी दुनिया इन योद्धाओं का सम्मान कर रही है, वहीं बीजेपी की शिवराज सरकार उन पर बर्बर तरीके से लाठियां बरसा रही है।

अदरअसल कोरोना संक्रमण की शुरुआत के समय शिवराज सरकार ने स्वास्थ्य कर्मियों की संख्या बढ़ाने के लिए बहुत सारे कर्मियों को कांट्रेक्ट पर नियुक्त किया। पहले इनका कार्यकाल 3 महीने था, बाद में इसे 9 महीने तक बढ़ा दिया गया। लेकिन अब शिवराज सरकार ने इन्हें नौकरी से निकालने का मन बना लिया है, जबकि इन कोरोना योद्धाओं की मांग है कि उन्हें स्थाई किया जाए। इसी सिलसिले में वे भोपाल के नीलम पार्क में प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मिलने की मांग कर रहे थे।, इसी बीच पुलिस ने उन पर लाठियां बरसाईं।


कांग्रेस के नेता एवं मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ कहा कि अपनी जान जोखिम में डालकर लोगों को सेवाएं देने वालों के साथ अपराधियों की तरह व्यवहार किया गया। उन्होंने इस मामले में लाठीचार्ज के दोषियों पर कार्यवाही की मांग की है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia