क्या कश्मीर को पाकिस्तान को दे देना चाहिए? MPPSC परीक्षा में पूछा गया अजीब प्रश्न, बीजेपी सरकार पर उठे सवाल

मामला सामने आने पर राज्य के गृहमंत्री डा नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि एमपीपीएससी परीक्षा में कश्मीर पर विवादित प्रश्न पूछने का प्रसंग आपत्तिजनक है। विवादास्पद प्रश्न पूछने वाले दोनों पेपर सेटर्स पर पीएससी ने भविष्य में प्रश्न पत्र तैयार करने पर रोक लगा दी है।

फाइल फोटोः सोशल मीडिया
फाइल फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

बीजेपी की सरकार में मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग (एमपीपीएससी) की प्रारंभिक परीक्षा में एक अजीब सवाल पूछा गया है जिस पर बवाल हो गया है। परीक्षा में पूछा गया था कि क्या भारत को कश्मीर पाकिस्तान को दे देने का निर्णय कर लेना चाहिए? इस सवाल पर बवाल होने के बाद दो प्रश्न पत्र बनाने वालों को डिबार (प्रतिबंधित) कर दिया गया है।

एमपीपीएससी द्वारा 19 जून रविवार को प्रारंभिक परीक्षा आयोजित की गई थी। इस परीक्षा में परीक्षार्थियों से जो सवाल पूछे गए थे, उनमें जवाब के लिए चार विकल्प भी थे। इसमें एक प्रश्न पूछा गया कि, क्या भारत को कश्मीर पाकिस्तान को दे देने का निर्णय कर लेना चाहिए? तर्क एक- हां, इससे भारत का बहुत सा धन बचेगा, तर्क दो- नहीं, ऐसे निर्णय से इसी तरह की और भी मांगे बढ़ जाएंगी। इस सवाल के जवाब के तौर पर चार विकल्प इस तरह थे- तर्क एक प्रबल, तर्क दो प्रबल, तीन- तर्क एक और दो दोनों प्रबल, चार- तर्क एक और दो दोनों प्रबल नहीं।


इस विवादित प्रश्न का मामला सामने आने पर राज्य के गृहमंत्री डा नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि एमपीपीएससी की परीक्षा में कश्मीर से जुड़ा विवादित प्रश्न पूछने का प्रसंग आपत्तिजनक है। विवादास्पद प्रश्न पूछने वाले दोनों पेपर सेटर्स मध्य प्रदेश और महाराष्ट के थे। दोनों पर पीएससी ने भविष्य में प्रश्न पत्र तैयार करने पर रोक (डिबार) लगा दी है।

डा नरोत्तम मिश्रा ने आगे कहा कि दोनों प्रश्न सेटर्स पर कार्रवाई के लिए पीएससी और उच्च शिक्षा विभाग को लिखा जा रहा है। साथ ही इस बात की सूचना दे दी गई है कि पेपर बनाने वाले डिबार कर दिए गए हैं, इनसे कोई भी काम न लिया जाए।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia