सिलक्यारा सुरंग हादसा: बचाए गए मजदूरों के परिजनों ने जताई खुशी, छोड़े पटाखे, कहा- पूरे गांव में खुशी

उत्तर प्रदेश के श्रावस्ती के श्रमिक संतोष कुमार की मां ने कहा, "हमारी संतोष से फोन पर बात हुई है, अभी वह अस्पताल में है। आज हमने दिवाली मनाई है... हम केंद्र सरकार और बचाव कर्मियों का धन्यवाद करते हैं।"

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तराखंड के उत्तरकाशी के सिल्कयारा सुरंग से जिन 41 श्रमिकों को सफलतापूर्वक बचाया गया है। उन्हें प्राथमिक चिकित्सा उपचार के लिए चिन्यालीसौड़ के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में लाया गया है। वहीं मजदूरों के परिजनों में खुशी की लहर है। उन्होंने पटाखे छोड़कर जश्न मनाया। उत्तर प्रदेश के श्रावस्ती के श्रमिक संतोष कुमार की मां ने कहा, "हमारी संतोष से फोन पर बात हुई है, अभी वह अस्पताल में है। आज हमने दिवाली मनाई है... हम केंद्र सरकार और बचाव कर्मियों का धन्यवाद करते हैं।"

बिहार के छपरा के रहने वाले श्रमिक सोनू की मां ने कहा, "मैं बहुत खुश हूं। मैं सरकार और सभी बचाव दल के सदस्यों को धन्यवाद देती हूं... मेरे बेटे ने कहा है कि वह दो दिन में वापस लौट आएगा।"


उत्तर प्रदेश के श्रावस्ती के श्रमिक राम सुंदर की मां धनपति ने कहा, "हम बहुत खुश हैं... कल शाम को हमने दिवाली मनाई, पूरे गांव ने कल खुशी से दिवाली मनाई।"

उत्तर प्रदेश के श्रावस्ती के श्रमिक राम सुंदर की पत्नी शीला ने कहा, "हम बहुत खुश हैं, कल हमने उनसे फोन पर बात की थी। हम केंद्र सरकार और बचाव कर्मियों का धन्यवाद करते हैं। पूरे गांव में बहुत खुशी है।"


उत्तर प्रदेश के श्रावस्ती के श्रमिक राम मिलन के बेटे संदीप कुमार ने बताया, "बहुत अच्छा लग रहा है। सब लोग खुश हैं। उनसे बात हुई है। मैं केंद्र सरकार और बचाव कर्मियों का धन्यवाद करता हूं।"

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;