चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी MMS कांड की SIT करेगी जांच, आरोपियों से होगी कड़ी पूछताछ, खुलेंगे कई राज!

चंडीगढ़ विश्वविद्यालय में सामने आए MMS कांड की जांच के लिए SIT गठित कर दी है। तीन सदस्यीय जांच दल में केवल महिलाएं ही शामिल होंगी। पंजाब पुलिस ने मामले में कार्रवाई कर अब तक तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में MMS कांड की जांच के लिए महिला अफसरों की SIT गठित की गई है। इस मामले में अब तक तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार किए गए लोगों में MMS बनाने वाली लड़की के अलावा दो युवक शामिल हैं। इस मामले की जानकारी पंजाब के डीजीपी ने दी है।

गौरतलब है कि चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में अश्लील वीडियो लीक मामले को लेकर पूरा देश सकते में है। रविवार देर रात तक छात्रों ने धरना-प्रदर्शन किया। दोनों आरोपियों के गिरफ्तार किए जाने के बाद भी उनका प्रदर्शन जारी था।

इस MMS कांड का मुख्य आरोपी शिमला से पकड़ा गया है, जिसे उसकी गर्लफ्रेंड हॉस्टल में छात्राओं के आपत्तिजनक वीडियो भेजा करती थी। इस मामले में एक और 31 वर्षीय व्यक्ति को पंजाब पुलिस ने शिमला के ढल्ली पुलिस स्टेशन से हिरासत में लिया है। आरोपी छात्रा को भी गिरफ्तार किया जा चुका है।


क्या और कब हुआ मामला?

बताया जा रहा है कि शनिवार देर रात उस समय यूनिवर्सिटी में हड़कंप मच गया जब हॉस्टल की एक छात्रा ने अन्य छात्राओं के अश्लील वीडियो बनाकर शिमला में बैठे अपे दोस्त के जरिए सोशल मीडिया पर वायरल करा दिए। जैसे ही छात्राओं को इस बात की खबर लगी। यूनिवर्सिटी में हंगामा खड़ा हो गया। माहौल तनावपूर्ण हो गया।

खबरों के अनुसार, यूनिवर्सिटी के हास्टल में एक छात्रा रोजाना हॉस्टल में रहने वाली लड़कियों के वीडियो बनाती थी। वह उनके कपड़े बदलने या नहाने के समय ही यह वीडियो बनाती थी। इसके बाद वह अपने दोस्त को वीडियो भेज देती थी। कुछ दिनों से लड़कियां उसे नोटिस कर रही थीं। शनिवार को लड़कियों ने उसे रंगे हाथों पकड़ लिया।  इसके बाद संस्थान के अधिकारियों को इस बारे में सूचना दी।

इसे भी पढें: चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में MMS कांड: आरोपी युवती के फोन से मिले इतने वीडियो, पुलिस ने दी जानकारी, जानें पूरा मामला

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;