केरल के वायनाड में राहुल गांधी के दफ्तर में तोड़फोड़ पर सीताराम येचुरी का आया बयान, जानें क्या कहा?

वायनाड में कांग्रेस सांसद राहुल गांधी के कार्यालय में तोड़फोड़ की गई। कांग्रेस केरल इकाई ने स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसएफआई) के कार्यकर्ताओं पर तोड़फोड़ का आरोप लगाया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

वायनाड में राहुल गांधी के दफ्तर में तोड़फोड़ पर सीपीआई (एम) महासचिव सीताराम येचुरी का बयान सामने आया है। येचुरी ने कहा है कि “वायनाड में जो कुछ भी हुआ वह कुछ ऐसा है जो हमने कहा है जो पूरी तरह से अस्वीकार्य है। हमने इसकी निंदा की है। येचुरी ने आगे कहा कि राज्य और राज्य सरकार के सीएम ने भी इसकी निंदा की और राज्य पुलिस ने इस गैर-जिम्मेदाराना कृत्य में शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है।”

गौरतलब है कि शुक्रवार को वायनाड में कांग्रेस सांसद राहुल गांधी के कार्यालय में तोड़फोड़ की गई। कांग्रेस केरल इकाई ने स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसएफआई) के कार्यकर्ताओं पर तोड़फोड़ का आरोप लगाया है। कांग्रेस का कहना है कि इसे माकपा के शीर्ष नेताओं की पूरी जानकारी के साथ अंजाम दिया गया। उधर, एआईसीसी महासचिव के.सी.वेणुगोपाल ने कहा कि यह शीर्ष माकपा नेतृत्व की पूरी जानकारी में हुआ, यदि नहीं, तो क्या मौके पर मौजूद जिला पुलिस का शीर्ष अधिकारी महज तमाशा बना रहेगा?

वेणुगोपाल ने कहा, "आरएसएस की तरह माकपा गांधी को पसंद नहीं करती है और इसलिए महात्मा गांधी की तस्वीर को एसएफआई कार्यकर्ताओं ने हटा दिया।" विपक्ष के नेता वी.डी.सतीसन ने इसे मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन के कार्यालय द्वारा तैयार की गई 'गेम प्लान' करार दिया, क्योंकि वे उनके और उनके परिवार के खिलाफ 'विस्फोटक खुलासे' के बाद सोने की तस्करी के मामले से लोगों का ध्यान हटाना चाहते हैं।

कांग्रेस के वरिष्ठ लोकसभा सांसद के. मुरलीधरन ने कहा कि हाल ही में स्पष्ट कारणों से सीपीआई-एम भाजपा को खुश रखना चाहती है। उन्होंने आरोप लगाया, "वायनाड में एसएफआई के पास इसका कोई कारण नहीं है, लेकिन उन्हें माकपा के शीर्ष नेताओं ने ऐसा करने के लिए मजबूर किया, क्योंकि वे दिल्ली में भाजपा को खुश रखना चाहते हैं।"

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;