प्रधानमंत्री से पहले सपाइयों ने कर दिया पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का सांकेतिक उद्घाटन, पुलिस को इस तरह दिया चकमा

सपाइयों का कहना है कि इसका नाम समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे था और इसका शिलान्यास पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पहले ही कर चुके हैं। इसलिए हम इसका सांकेतिक लोकार्पण आज कर रहे हैं। सपाइयों ने कहा कि सपा के कराए कामों को बीजेपी अपना कार्य बता रही है।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

समाजवादी पार्टी के कार्यकतार्ओं ने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पहले पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का 'सांकेतिक' उद्घाटन कर दिया। इस दौरान उन्होंने साइकिल यात्रा भी निकाली। समाजवादी पार्टी के विधायक और पूर्व मंत्री दुर्गा प्रसाद यादव और सपा विधायक नफीस अहमद समेत सैकड़ों कार्यकर्ता अहले सुबह साइकिल से पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर पुलिस को चकमा देकर पहुंच गए। एक्सप्रेस-वे पर सपा नेताओं ने साइकिल को खड़ा कर पुष्प वर्षा की और सांकेतिक रूप से पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का लोकार्पण कर दिया। लोकार्पण के बाद सपा नेताओं के साथ कार्यकतार्ओं ने कई किलोमीटर तक एक्सप्रेस वे पर साइकिल भी चलाई।

इस दौरान एसपी विधायक नफीस अहमद ने कहा, "पूर्वांचल एक्सप्रेस वे की आधारशिला और इसको बनाने का काम अखिलेश यादव ने अपने मुख्यमंत्री काल में शुरू किया था और समाजवादी एक्सप्रेस वे के रूप में पूर्वांचल को एक सौगात दी थी, जिससे पूर्वांचल की तरक्की का रास्ता खुल सके। बीजेपी सरकार लगातार अखिलेश यादव के कामों पर अपनी मुहर लगाकर अपना नाम कर रही है, इनकी कोई सोच नहीं है।

नफीस अहम ने कहा, "आज उसी तरीके से समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का नाम बदलकर पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का उद्घाटन करने जा रहे हैं लेकिन हम लोगों ने दुर्गा प्रसाद यादव के नेतृत्व में आज पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का उद्घाटन कर दिया। फूल वर्षा कर दी जिससे यह संदेश जा सके की इस उत्तर प्रदेश की तरक्की का रास्ता कोई बना सकता है, इसको कोई आगे ले जा सकता है, उत्तम प्रदेश कोई बना सकता है, तो उसका नाम अखिलेश यादव है।"


हालांकि सांकेतिक लोकार्पण को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने पहले ही सूचना दे दी थी, बावजूद इसके पुलिस महकमा और जिला प्रशासन इसे लेकर संजीदा नहीं रहा। सूचना मिलते ही प्रशासनिक अमला हरकत में आ गया है। यूपी पुलिस के हाथ-पैर फूल गए। हालांकि, तब तक सपाई अपना काम कर जा चुके थे।

दरअसल सुल्तानपुर जिले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 16 नवंबर यानी आज मंगलवार को पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का लोकार्पण किये जाने का कार्यक्रम तय था। इसे लेकर सारी तैयारियां पूरी भी कर ली गईं, लेकिन उससे पहले ही सपाइयों ने एक्सप्रेस वे का उद्घाटन कर दिया। उधर अखिलेश यादव की विजय यात्रा निकालने के लिए प्रशासन ने अनुमति नहीं दी। इस बात को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने पहले ही कार्यकतार्ओं से कह दिया था कि वह पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का संकेतिक लोकार्पण करेंगे।

सपाइयों का कहना है कि इस समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पहले ही कर चुके हैं। इसलिए हम इसका सांकेतिक लोकार्पण आज कर रहे हैं।
सपाइयों ने कहा कि समाजवादी पार्टी द्वारा कराए गए कार्यों को बीजेपी अपना कार्य बता रही है। साथ ही उसका नाम भी बदल रही है। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का भी नाम बदला गया है। इस पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का नाम समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे था, जिसे बीजेपी ने बदलकर पूर्वांचल एक्सप्रेसवे कर दिया।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia