एनडीए में फूट! दिल्ली में बीजेपी के खिलाफ ताल ठोकेगी जेडीयू, सभी 70 सीटों पर उम्मीदवार उतारने का ऐलान 

जेडीयू ने अगामी दिल्ली विधानसभा के चुनाव के लिए सभी सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारने का फैसला किया है। जेडीयू की दिल्ली प्रदेश इकाई के पुनर्गठन को पार्टी अध्यक्ष और बिहार के सीएम नीतीश कुमार की मंजूरी मिलने के बाद पार्टी ने दिल्ली में चुनावी तैयारियां शुरु कर दी है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

एनडीए में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। बिहार की राजनीति में बीजेपी और जेडीयू का मनमुटाव जगजाहिर है। अब खबर है कि दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू अब बीजेपी के खिलाफ ताल ठोकेगी। नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू सभी 70 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ने का फैसला किया है।

अरुणाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव में 7 सीटें जीतने के बाद जेडीयू उत्साहित है। पार्टी अपने विस्तार के लिए दिल्ली के अलावा झारखंड विधानसभा चुनाव में भी अकेले उतरने की तैयारी में है।

जेडीयू की दिल्ली प्रदेश इकाई के पुनर्गठन को पार्टी अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की मंजूरी मिलने के बाद पार्टी ने दिल्ली में चुनावी तैयारियां शुरु कर दी है। जेडीयू प्रवक्ता सत्य प्रकाश मिश्रा ने शनिवार को कहा, “हाल ही में प्रदेश संगठन के चुनाव में वरिष्ठ नेता दयानंद राय को दिल्ली का प्रदेश अध्यक्ष चुना गया।”

मिश्रा ने बताया कि पार्टी अध्यक्ष नीतीश कुमार ने बिहार के बाहर जेडीयू के संगठन विस्तार की दृष्टि से दिल्ली में मजबूती से चुनाव लड़ने का पार्टी कार्यकर्ताओं से आह्वान किया है। उन्होंने आगे कहा कि दिल्ली में बड़ी संख्या में बिहार और यूपी के लोग रहते हैं, जिन्हें शुरु से ही कई दलों ने ठगने का काम किया है। मिश्रा ने आग बताया कि जेडीयू अनधिकृत कालोनियों समेत सभी मुद्दों को लेकर चुनाव मैदान में उतरेगी।

गौरतलब है कि बिहार में सत्तारूढ़ जेडीयू ने अन्य राज्यों में पार्टी के विस्तार की रणनीति के तहत दिल्ली में पूर्वांचली समुदाय की व्यापक मौजूदगी के मद्देनजर आगामी विधानसभा चुनाव लड़ने का फैसला किया है।

Published: 28 Sep 2019, 7:32 PM
लोकप्रिय
next