नागरिकता कानून के खिलाफ देश भर में प्रदर्शन, कर्नाटक और यूपी में धारा 144 लागू, सैकड़ों लोग हिरासत में लिए गए

उत्तर प्रदेश और कर्नाटक में नागरिकता कानून के खिलाफ राज्यव्यापी विरोध प्रदर्शन जारी है। इसे लेकर पुलिस प्रशासन पूरी तरह चौकन्ना है। यूपी के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ओपी सिंह ने कहा कि किसी भी तरह के धरना-प्रदर्शन की अनुमति नहीं है।

फोटो:  IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

नागरिकता कानून को लेकर देश भर में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। वहीं कर्नाटक में इसके लिए लेफ्ट विंग और मुस्लिम संगठनों ने राज्य बंद का आह्वान किया है। जिसके चलते राज्य के कई जिलों में धारा 144 लागू कर दी गई है। लेकिन कलबुर्गी में धारा 144 के बावजूद लोगों ने नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन किया है। खबरों के मुताबिक, पुलिस ने 20 लोगों को हिरासत में ले लिया है। वहीं देशभर में सैकड़ों लोगों को हिरासत में लिया गया है।

दूसरी ओर उत्तर प्रदेश में गुरुवार को राजव्यापी विरोध प्रदर्शन जारी है। इसे लेकर पुलिस प्रशासन पूरी तरह चौकन्ना है। उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ओपी सिंह ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। उन्होंने कहा कि किसी भी तरह के धरना-प्रदर्शन की अनुमति नहीं है।

डीजीपी सिंह ने ट्वीट किया, “19 दिसंबर 2019 को पूरे प्रदेश में धारा 144 लागू रहेगी और किसी भी सभा के लिए कोई अनुमति नहीं दी गई है। कृपया कोई भी व्यक्ति किसी भी सभा में भाग ना लें। माता-पिता से भी अनुरोध है कि वे अपने बच्चों की काउंसलिंग करें।”

पिछले कुछ दिनों में दिल्ली स्थित जामिया विश्वविद्यालय में असामाजिक तत्वों के द्वारा की गई तोड़फोड़ और सीलमपुर में हिंसा के बाद से देश भर में पुलिस सतर्कता बरत रही है। उत्तर प्रदेश में भी सीएए को लेकर कई विश्वविद्यालयों और शहरों में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं, जिनको लेकर प्रदेश की पुलिस सख्त हो गई है। प्रदेश के सभी जिलों में धारा 144 लागू होने और पूर्व अनुमति के बगैर सभी प्रकार के कार्यक्रमों पर रोक के बीच समाजवादी पार्टी (सपा) के प्रदर्शन की कोशिश करने की प्रबल संभावना से टकराव की आशंका है।

इससे पहले मुख्यमंत्री ने डीजीपी और अपर मुख्य सचिव (गृह) अवनीश कुमार अवस्थी के अलावा एसटीएफ और एटीएस के आला अफसरों के साथ बैठक कर प्रदेश में हिंसक घटनाओं पर नाराजगी जताते हुए शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए थे।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि प्रदेश में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए राज्यव्यापी विरोध प्रदर्शन से पहले सीआरपीसी की धारा 149 के तहत 3,000 लोगों को नोटिस जारी किया है। कुछ लोगों से पुलिस ने विरोध प्रदर्शन के दौरान शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए बॉन्ड भी भरवाया है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

Published: 19 Dec 2019, 11:59 AM
लोकप्रिय
next