पंजाब में अक्षय कुमार की नई फिल्म 'सूर्यवंशी' का जबरदस्त विरोध, किसानों ने फाड़े पोस्टर, सिनेमाघरों में रुकवाया

किसान नेता मनप्रीत सिंह संधू के अनुसार, अक्षय कुमार ने कई फिल्मों में पंजाबी और सिख किरदार अदा किया है और करोड़ों रुपए पंजाबियत के जरिए कमाए हैं, लेकिन अब जब मौका आया तो वह किसानों के खिलाफ और किसान विरोधी नरेंद्र मोदी सरकार के पक्ष में खड़े हो गए।

फोटो: अमरीक सिंह
फोटो: अमरीक सिंह
user

अमरीक

देश-विदेश में धूमधाम से चल रही और रिकॉर्ड कमाई कर रही अभिनेता अक्षय कुमार की नई फिल्म 'सूर्यवंशी' का पंजाब में जोरदार विरोध हो रहा है। किसान संगठनों ने होशियारपुर, पटियाला, मानसा, मोगा, फरीदकोट, जीरकपुर, बठिंडा, जलालाबाद, बरनाला और बुढलाडा समेत कई शहरों-कस्बों में फिल्म का कड़ा विरोध किया और प्रदर्शन रुकवा दिया। किसान संगठनों का कहना है कि अक्षय कुमार ने केंद्र के तीन कृषि अध्यादेशों का समर्थन किया था, इसलिए वे फिल्म नहीं चलने देंगे।

मौके की नजाकत देखते हुए कई मॉल प्रबंधकों और सिनेमाघर मालिकों ने आनन-फानन में खुद ही फिल्म हटाने का फैसला कर लिया। किसान आंदोलनों के गढ़ माने जाने वाले मानसा के ग्रैंड मॉल में बड़ी तादाद में इकट्ठा हुए किसानों ने वहां चल रही 'सूर्यवंशी' के पोस्टर फाड़े और फिल्म रुकवा दी। इस मौके पर अक्षय कुमार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। भारतीय किसान यूनियन (कादियां) के नेता परमजीत सिंह ने कहा कि अक्षय कुमार, सनी देओल और कंगना राणावत जैसे कुछ सिनेस्टार किसान आंदोलन का विरोध कर रहे हैं, इसलिए इनकी फिल्में पंजाब में नहीं चलने दी जाएंगीं। उन्होंने कहा कि जब तक कृषि कानून रद्द नहीं किए जाते तब तक किसान मोर्चा, इन अभिनेताओं का विरोध जारी रखेगा। जानकारी के अनुसार, बड़ी तादाद में, किसानी झंडे लेकर नौजवान मॉल में पहुंचे और उन्होंने प्रबंधकों से अपील की कि फिल्म का प्रदर्शन रोक दें। मॉल के प्रबंधकों ने प्रदर्शनकारी किसानों को भरोसा दिलाया कि वे अपने सिनेमाघर में 'सूर्यवंशी' नहीं चलाएंगे।


इसी तरह किसान संगठनों ने बरनाला का आसियान मॉल घेरा और पोस्टर फाड़े और फिल्म का प्रदर्शन रुकवा दिया। यहां भी मॉल और सिनेमाघरों के मालिकों ने किसानों को आश्वस्त किया कि 'सूर्यवंशी' नहीं चलेगी। पटियाला में भी वरिष्ठ किसान नेता प्रभजीत पाल सिंह की अगुवाई में विभिन्न किसान संगठनों ने तीखा विरोध करते हुए फिल्म का प्रदर्शन रुकवाया।

होशियारपुर, बठिंडा, फरीदकोट तथा जीरकपुर में भी जोरदार प्रदर्शन के बाद फिल्म उतार ली गई और पोस्टर हटा दिए गए। किसान नेता मनप्रीत सिंह संधू के अनुसार, अक्षय कुमार ने कई फिल्मों में पंजाबी और सिख किरदार अदा किया है और करोड़ों रुपए पंजाबियत के जरिए कमाए हैं, लेकिन अब जब मौका आया तो वह किसानों के खिलाफ और किसान विरोधी नरेंद्र मोदी सरकार के पक्ष में खड़े हो गए।

उधर, राज्यभर से आ रहीं खबरों के बाद कई शहरों-कस्बों में मॉल और सिनेमाघरों के मालिकों ने खुद ही 'सूर्यवंशी' स्क्रीन से हटा दी। गौरतलब है कि अक्षय कुमार और 'सूर्यवंशी' के खिलाफ किसान पूरी तरह शांतमाय ढंग से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। बरनाला के एक मॉल मालिक ने कहा कि वह किसानों की भावनाओं का सम्मान करते हैं।

एक अनुमान के अनुसार, पंजाब में 'सूर्यवंशी' के विरोध से प्रतिदिन आठ करोड़ रुपये का सीधा नुकसान वितरकों को होगा। इसी हफ्ते पूरी क्षमता के साथ मॉल तथा सिनेमाघर खुले थे। अतीत में, आंदोलनरत किसान पंजाब में कई बॉलीवुड फिल्मों की शूटिंग विरोधस्वरूप रुकवा चुके हैं। किसानों के भारी विरोध के चलते अब भी सूबे में फिल्मों की शूटिंग स्थगित है। पहले बॉलीवुड स्टार अपनी फिल्मों की प्रमोशन के लिए बड़ी तादाद में पंजाब आते थे, लेकिन किसानों के विरोध के बाद अब यह सिलसिला बंद है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia