हिमाचल में अपना कार्यकाल पूरा करेगी कांग्रेस सरकार, BJP की साजिश नाकाम हुईः सुखविंदर सुक्खू

मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि जिस तरह से बीजेपी ने सीआरपीएफ और हरियाणा पुलिस के साथ हेलीकॉप्टर भेजकर हिमाचल प्रदेश में सत्ता पलटने की साजिश रची, वह फेल हो गई है।

सुखविंदर सुक्खू का बड़ा ऐलान, बोले- अपना कार्यकाल पूरा करेगी कांग्रेस सरकार, BJP की साजिश नाकाम हुई
सुखविंदर सुक्खू का बड़ा ऐलान, बोले- अपना कार्यकाल पूरा करेगी कांग्रेस सरकार, BJP की साजिश नाकाम हुई
user

नवजीवन डेस्क

हिमाचल प्रदेश में राज्यसभा चुनाव के दौरान हुए घटनाक्रम के बाद सियासी हलचल के बीच मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने बीजेपी पर गिन-गिन कर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि बीजेपी पहाड़ी राज्य में कांग्रेस सरकार को गिराने की साजिश कर रही है, लेकिन उनकी साजिश नाकाम हो गई है। उन्होंने कहा कि जिस तरह से उन्होंने सीआरपीएफ और हरियाणा पुलिस के साथ हेलीकॉप्टर भेजकर हिमाचल प्रदेश में सत्ता पलटने की साजिश रची, वह फेल हो गई है।

सीएम सुक्खू ने बुधवार को विधानसभा में बजट पर अपने भाषण में कहा कि राज्य की कांग्रेस सरकार अपना पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी। लोकतंत्र में सत्य की जीत होती है। हमारे विधायकों ने आज बजट पारित किया। हम सभी को धन्यवाद देना चाहते हैं। हमारी सरकार को गिराने की साजिश की गई है। नाकाम कर दिया गया और हमारी सरकार निश्चित रूप से पांच साल पूरे करेगी।

बीजेपी पर हमलों की झड़ी लगाते हुए सीएम सुक्खू ने कहा कि वह अपने सभी विधायकों को धन्यवाद देना चाहते हैं जो बीजेपी के प्रलोभन से आकर्षित नहीं हुए। उन्होंने आरोप लगाया कि अर्द्धसैनिक बल, सीआरपीएफ विधानसभा के अंदर आ रहे थे। लोकतंत्र में यह कैसे संभव है? यह हमारी विधानसभा है। वे राजनीतिक लाभ के लिए जो तरीके अपना रहे हैं, वह निंदनीय है। वे रातों-रात हमारे विधायकों को करोड़ों रुपये की पेशकश करके खरीदने की कोशिश कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं उन सभी विधायकों को धन्यवाद देना चाहता हूं जिन्होंने एकता की ताकत दिखाई है।


मंगलवार को राज्यसभा चुनाव में क्रॉस वोटिंग करने वाले विधायकों के बारे में बोलते हुए मुख्यमंत्री सुक्खू ने कहा कि उनमें से एक ने माफी मांगी है। सुक्खू ने कहा कि विधायकों में से एक (जिसने राज्यसभा चुनावों में बीजेपी उम्मीदवार को वोट दिया था) ने माफी मांगी है क्योंकि उसने पार्टी को धोखा दिया है। मैं उसका नाम नहीं लेना चाहता। उसने कहा कि उसने फैसले में गलती की है।

क्रॉस वोटिंग करने वाले विधायकों की अयोग्यता के मामले पर सुनवाई शाम 4 बजे शुरू होगी। विधानसभा में बीजेपी विधायकों के हंगामे पर मुख्यमंत्री ने कहा कि पहाड़ी राज्य ने ऐसी गुंडागर्दी कभी नहीं देखी। विपक्ष के नेता जयराम ठाकुर के इस दावे को खारिज करते हुए कि मुख्यमंत्री को इस्तीफा दे देना चाहिए, सुक्खू ने कहा कि मैंने कई अफवाहें सुनी हैं कि जयराम ठाकुर मुझसे इस्तीफा मांग रहे हैं। जयराम ठाकुर कांग्रेस पार्टी का फैसला कैसे ले सकते हैं?

सीएम सुक्खू ने कहा कि उन्होंने स्पीकर के मार्शलों और स्पीकर के साथ लड़ाई की। हमने अनुशासन दिखाते हुए उन्हें मार्शल के जरिये बाहर करने का फैसला किया क्योंकि स्पीकर के आदेशों का पालन करना आवश्यक है। वे विधानसभा में दुर्व्यवहार कर रहे थे। विधानसभा में इस तरह की गुंडागर्दी की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। सुक्खू ने कहा कि हिमाचल ने ऐसे दृश्य नहीं देखे हैं। हिमाचल देवी-देवताओं का राज्य है। यह एक ऐसा राज्य है जहां लोकतंत्र मजबूत हुआ है।

बीजेपी के राज्यसभा उम्मीदवार के पक्ष में क्रॉसवोटिंग करने वाले बागी कांग्रेस विधायकों पर सुक्खू ने कहा कि जिस तरह से उन्होंने लोगों को धोखा दिया है। मुझे लगता है कि आने वाले समय में लोग उन्हें जवाब देंगे। हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि राज्य मंत्री विक्रमादित्य सिंह का इस्तीफा कांग्रेस पार्टी ने स्वीकार नहीं किया है और उनके असंतोष को दूर करने के लिए बातचीत चल रही है। सुक्खू ने कहा कि विक्रमादित्य मेरे छोटे भाई हैं। उनका इस्तीफा स्वीकार करने का कोई कारण नहीं है। उनकी कुछ शिकायतें हैं जिन्हें दूर किया जाएगा।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


/* */