कपिल सिब्बल ने अमित शाह को समझाई जासूसी कांड की 'क्रोनोलॉजी'! कहा- सरकार बताए पेगासस का इस्तेमाल हुआ या नहीं

कपिल सिब्बल ने अमित शाह के 'क्रोनोलॉजी समझिए' वाले बयान पर हमला बोलते हुए कहा है कि गृह मंत्री अमित शाह को क्रोनोलॉजी समझनी चाहिए। सिब्बल ने कहा कि जासूसी के लिए पेगासस का इस्तेमाल साल 2017-19 के बीच में किया गया था।

फोटो: Getty Images
फोटो: Getty Images
user

नवजीवन डेस्क

मोदी सरकार देश की नामी हस्तियों की जासूसी के आरोप में बुरी तरह फंसती नजर आ रही है। जासूसी कांड को लेकर सरकार से विपक्ष भी लगातार सवाल कर रहा है, लेकिन केंद्र की ओर से कोई खास जवाब नहीं मिल रहा है। इन सबके बीच कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने भी जासूसी कांड को लेकर सरकार पर सवाल उठाए हैं। कपिल सिब्बल ने आरोप लगाए हैं कि पेगासस पर सच्चाई सामने नहीं आ रही है। सिब्बल ने कहा कि सरकार को ये बताना चाहिए कि सरकार ने पेगासस का इस्तेमाल किया या नहीं। कपिल सिब्बल ने आगे कहा कि सरकार डाटा प्रोटेक्शन की जगह डाटा कलेक्शन कर रही है।

इसके अलावा कपिल सिब्बल ने अमित शाह के 'क्रोनोलॉजी समझिए' वाले बयान पर हमला बोलते हुए कहा है कि गृह मंत्री अमित शाह को क्रोनोलॉजी समझनी चाहिए। सिब्बल ने कहा कि जासूसी के लिए पेगासस का इस्तेमाल साल 2017-19 के बीच में किया गया था। कपिल सिब्बल ने कहा कि इस डेटा को ऐसी एजेंसी को लीक करना राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा है जिसका भारत से कोई लेना-देना नहीं है।

कपिल सिब्बल ने इस पूरे मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट द्वारा किए जाने की बात कही है। सिब्बल ने कहा कि इसकी जांच करनी चाहिए और कार्यवाही कैमरे के सामने होनी चाहिए। इसके अलावा संसद में एक श्वेत पत्र पेश किया जाना चाहिए और मंत्री को स्पष्ट रूप से बताना चाहिए कि सरकार या किसी अन्य एजेंसी ने यहां पेगासस का इस्तेमाल किया है या नहीं।

गौरतलब है कि खुद की सरकार पर आरोपों से बचने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ये कहकर पल्ला झाड़ने की कोशिश की है कि 'क्रोनोलॉजी समझिए'.. शाह के इसी बयान को लेकर भी कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने उनपर हमला बोला है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia