खट्टर सरकार के 2500 दिन पर सुरजेवाला के 25 सवाल, कहा- हरियाणा लहुलुहान और सरकार मना रही ‘‘सत्ता की मलाई’’ का उत्सव

हरियाणा सरकार सत्ता में 2500 दिन का उत्सव मना रही है। इस मौके पर कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने मनोहर खट्टर सरकार से 25 सवाल पूछे हैं। उन्होंने कई सवालों के साथ ऐसे उपनाम इस्तेमाल किए हैं जिनका जवाब सीएम के पास नहीं है।

सोशल मीडिया
सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

हरियाणा सरकार से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रणदीप सुरजेवाला ने तीखे सवाल किए हैं। उन्होंने सरकार के 2500 दिन पूरे होने के मौके पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के सामने 25 सवालों की फेहरिस्त रखी है। उन्होंने कहा है कि हरियाणा की जनता इन सवालों के जवाब चाहती है।

सुरजेवाला ने जो सवाल रखे हैं वे इस तरह हैं:

  1. गरीब-मजदूर-किसानों पर 7 साल से पुलिस की लाठियां बरसाई जा रही है। इस अत्याचार का जिम्मेदार कौन?

  2. बीजेपी सांसद विवादित बयानबाजी कर दंगे भड़काते रहे, आप आग लगा तमाशा देखते रहे! षड्यंत्रकारी जातिगत विभाजन का जिम्मेदार कौन?

  3. खुद की सरकार द्वारा गठित प्रकाश सिंह कमेटी की रिपोर्ट को आपकी अपनी सरकार ने क्यों नकार दिया?

  4. डेरा प्रमुख राम रहीम के हज़ारों अनुयायियों को पंचकुला में इकट्ठे होने की इजाजत के बाद अंधाधुंध गोली चला 50 से ज्यादा डेरा अनुयायियों को मारा। क्या यही आपका प्रशासनिक कौशल है?

  5. हरियाणा प्रदेश में 36 बिरादरी भाईचारे के साथ रहती आई हैं। कभी कोई दंगा फसाद नहीं हुआ। सत्ता के लिए भाई को भाई से लड़ाकर आपको क्या मिला?

  6. पिछले 2500 दिनों हरियाणा में कश्मीर से ज्यादा लोग पुलिस की गोली से मारे गए। क्या इसी का आप उत्सव मना रहे हैं?

  7. किसानों की आय दोगुनी करने के नारे से आप सत्ता में आए थे, लेकिन किसानों के अस्तित्व को ही संकट में डाल दिया। 9 महीनों से किसान अत्याचार झेल रहे हैं, 600 से ज्यादा कुर्बान हो चुके हैं। आपकी सरकार ने अनशन पर बैठे किसानों की समस्या हल करने के लिए क्या प्रयास किए?

  8. किसान धरती के सीने से अन्न निकालकर देश का पेट भरता है, उसके बच्चे ओलंपिक में मेडल और सीमा पर परमवीर चक्र लेकर आते हैं और कुछ फर्जी किस्म के नारेबाज उन्हें देशद्रोही कहकर अपमानित करते हैं। किसान पर यह अत्याचार कब तक चलेगा लठैत जी?

  9. पीपली से लेकर सिंघु बॉर्डर तक पूरे हरियाणा की सड़कें किसानों के रक्त से लाल हैं। क्या आप समझते हैं कि किसान इससे झुक जाएगा। प्रदेश की जनता जानना चाहती है कि किसानों के सर फोड़ने का आदेश देने वाले डायर के उत्तराधिकारी अधिकारियों पर कार्रवाई कब होगी?

  10. 2014 में जब सरकार बनी तो प्रदेश पर कुल कर्ज 60,000 करोड़ था जो इन 2500 दिनों में बढ़कर अब 1,85,000 करोड़ हो चुका है। कोई विकास कार्य नहीं, कोई पारी नहीं, यह पैसा कहां गया कर्जजीवी जी?

  11. नायब तहसीलदार, क्लर्क, ग्राम सचिव जैसी 28 भर्तियों के पर्चे लीक हुए मगर किसी अधिकारी पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। पेपर बिकते रहे और युवक कुढ़ते रहे। पेपर लीक माफिया पर इतनी मेहरबानी क्यों मिशन मेरिट जी?

  12. पिछले सात साल में आपने कभी बिजली की दरें बढ़ाकर, कभी पेट्रोल-डीजल पर टैक्स बढ़ाकर, कभी बस का किराया बढ़ाकर, कभी हाऊस टैक्स बढ़ाकर, कभी लाइसेंस फीस बढ़ाकर आपने हरियाणा की जनता से हजारो-लाखों करोड की वसूली की है। इतना पैसा कहां गया? क्या इसका हिसाब देंगे?

  13. 10,000 से अधिक जेबीटी अध्यापक चयन प्रक्रिया पूरी होने के 3 साल पश्चात भी पुलिस की लाठी और आंसूगैस झेलते रहे, तब कहीं जाकर उन्हें कोर्ट से राहत मिली है। उन युवा साथियों का दोषी कौन?

  14. हजारों अतिथि अध्यापक 15 साल से अधिक शिक्षा विभाग को अपनी सेवाएं दे चुके हैं। अपनी मांगों के समर्थन में कितनी दफा सरकारी दमन झेल चुके हैं। क्या आपने इन लोगों को स्थाई नौकरी देने के वादे पूरे कर दिए?

  15. आपकी सरकार ने पिछले 2500 दिनों में कितने जेबीटी और कितने टीजीटी पदों पर भर्तियां की? एचटेट पास युवाओं की बेरोजगारी का जिम्मेदार कौन है जुमलेजीवी जी?

  16. 5 साल प्रक्रिया चलाने के बाद संस्कृत पीजीटी की भर्ती निरस्त कर दी गई। इस भर्ती में चयनित सैकड़ों युवाओँ का भविष्य खराब करने का जिम्मेदार कौन है खट्टर साहब?

  17. जब आप सत्ता में आए तो हरियाणा प्रति व्यक्ति आय के मामले में गोवा के बाद देश का दूसरा राज्य था। आज 28.1 फीसदी बेरोजगारी के साथ हरियाणा बेरोजगारी में पहले नंबर पर है। क्या यही आपका विकास है?

  18. केवल प्रदेश के युवा ही नहीं, आपके प्रतापी राज में तो आपकी सरकार के 90 फीसदी मंत्री तक बेरोजगार हो गए। आपकी पिछली सरकार के सभी बड़े मंत्री जनता ने नकार क्यों दिए जनप्रिय जी?

सुरजेवाला ने इन सवालों के अंत में कहा है कि

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia