Ukraine-Russia War: दोनों देशों के बीच थोड़ी देर में शुरु होगी बातचीत, बेलारुस बॉर्डर पहुंचे प्रतिनिधिमंडल

युद्ध के बीच रूस और यूक्रेन के बीच थोड़ी देर में ही बातचीत शुरु होने वाली है। बेलारूस-यूक्रेन बॉर्डर पर बैठक की सारी तैयारियां पूरी हो गई हैं और दोनों देशों के प्रतिनिधिमंडल पहुंच गए हैं। इस बीच रूस ने यूक्रेन पर हमलों में कुछ कमी की है।

सोशल मीडिया
सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

रूस और यूक्रेन के बीच शांति वार्ता का पहला दौर थोड़ी देर में शुरु होने वाला है। बेलारूस बॉर्डर पर होने वाली इस बातचीत के लिए रूस और य़ूक्रेन के प्रतिनिधिमंडल पहुंच चुके हैं। समाचार एजेंसी स्पूतनिक ने सोमवार को यह जानकारी दी है। यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोदिमिर जेलेंस्की ने सोशल मीडिया के माध्यम से बीती रात जानकारी दी थी कि यूक्रेन बेलारूस-यूक्रेनी सीमा पर रूस के साथ बातचीत करने के लिए सहमत हो गया है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, इससे पहले जेलेंस्की ने बातचीत के लिए बुडापेस्ट और वारसॉ सहित वैकल्पिक शहरों का सुझाव देते हुए बेलारूस में बातचीत करने के रूस के प्रस्ताव को खारिज कर दिया था।

उधर क्रेमलिन ने भी घोषणा की है कि रूसी प्रतिनिधिमंडल बेलारूस पहुंच गया है और गोमेल शहर में यूक्रेन के साथ बातचीत करने के लिए तैयार है, इसके तुरंत बाद उन्होंने रविवार को अपने टेलीग्राम चैनल पर पोस्ट किए गए एक वीडियो संदेश में यह टिप्पणी की। क्रेमलिन ने कहा था कि यूक्रेन रूस के साथ बातचीत के लिए तैयार है, लेकिन बेलारूस कोई विकल्प नहीं है क्योंकि रूस अपने कुछ हमलों को बेलारूस से अंजाम दे रहा है। उन्होंने कहा था, "हम मिन्स्क में बातचीत के लिए नहीं कह रहे हैं। अन्य शहर मिलने की जगह हो सकते हैं।"

उधर जेलेंस्की ने कहा था, "हम शांति चाहते हैं, हम मिलना चाहते हैं, हम युद्ध का अंत चाहते हैं। कोई भी अन्य शहर हमारे लिए उपयुक्त होगा, कोई भी देश, जिसकी सीमा से मिसाइलें नहीं दागी जाती हैं।" इससे पहले क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने कहा कि विदेश मंत्रालय, रक्षा मंत्रालय और अन्य सरकारी एजेंसियों के प्रतिनिधियों सहित एक प्रतिनिधिमंडल बेलारूस पहुंच गया है। पेसकोव ने कहा कि रूस ने यूक्रेन को चेतावनी दी है कि वह किसी भी संभावित वार्ता के दौरान सैन्य अभियानों को स्थगित नहीं करेगा।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia