तमिलनाडुः नेताओं, पूर्व मंत्रियों के यहां छापे से बैकफुट पर AIADMK, राजनीतिक के साथ कानूनी मुश्किलें भी बढ़ीं

अन्नाद्रमुक नेता पलानीस्वामी और पनीरसेल्वम ने पार्टी के नेताओं और पूर्व मंत्रियों के खिलाफ छापेमारी की निंदा करते हुए कहा कि सच्चाई का पता लगाने से पहले आरोप लगाना अनुचित है। उन्होंने कहा कि पार्टी अपने नेताओं के खिलाफ मनगढ़ंत मामलों से लड़ेगी।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

तमिलनाडु में विपक्षी ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (एआईएडीएमके) यानी अन्नाद्रमुक पार्टी अपने दो वरिष्ठ नेताओं और पूर्व मंत्रियों के आवासों और परिसरों पर लगातार छापेमारी के बाद बैकफुट पर है। अन्नाद्रमुक के दो नेताओं ने कहा है कि पार्टी इन राजनीतिक रूप से प्रेरित छापों का सामना करेगी। अन्नाद्रमुक ने सतर्कता और भ्रष्टाचार निरोधक निदेशालय (डीवीएसी) द्वारा पूर्व मंत्री और पार्टी नेता एस.पी. वेलुमणि के परिसरों पर की गई छापेमारी की निंदा की।

राज्य के सतर्कता और भ्रष्टाचार निरोधक निदेशालय ने 22 जुलाई को पूर्व परिवहन मंत्री और अन्नाद्रमुक नेता एम.आर. विजयभास्कर के आवास और परिसरों पर छापेमारी की थी। इसके बाद अन्नाद्रमुक नेता एस.पी. वेलुमणि के आवास और कार्यालय परिसर में छापेमारी हुई, जिस पर अन्नाद्रमुक ने कहा कि उन्हें पहले से पता था कि डीएमके सरकार विपक्षी पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ छापेमारी और जांचों की श्रृंखला शुरू करेगी।


अन्नाद्रमुक के समन्वयक ओ. पनीरसेल्वम और सह-समन्वयक एडप्पादी के. पलानीस्वामी ने एक संयुक्त बयान में कहा कि द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) सरकार अन्नाद्रमुक के खिलाफ प्रतिशोध की राजनीति कर रही है और चेतावनी दी कि पार्टी इस तरह की कार्रवाइयों से नहीं डरेगी। दोनों नेताओं ने कहा कि डीएमके सरकार को कोविड-19 महामारी के बीच लोगों के लिए कल्याणकारी गतिविधियों पर ध्यान देना चाहिए, लेकिन इसके बजाय वह अन्नाद्रमुक नेताओं को निशाना बना रही है और राजनीतिक प्रतिशोध में लिप्त है।

अन्नाद्रमुक नेताओं ने कहा कि सच्चाई का पता लगाने से पहले पिछली अन्नाद्रमुक सरकार में रहे मंत्रियों के खिलाफ आरोप लगाना अनुचित है। पलानीस्वामी और पनीरसेल्वम ने कहा कि पार्टी अपने नेताओं के खिलाफ इन मनगढ़ंत मामलों से लड़ेगी और ऐसे चुनौतीपूर्ण कोविड समय के दौरान तमिलनाडु के लोगों की सेवा करने में सबसे आगे रहेगी।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia