ऑल्ट न्यूज के मोहम्मद जुबैर को सांप्रदायिक सद्भाव पुरस्कार, तमिलनाडु सरकार ने किया सम्मानित

मोहम्मद जुबैर को मिले प्रशस्तिपत्र में कहा गया है कि उनका काम समाज में फर्जी खबरों के कारण होने वाली हिंसा को रोकने में मदद करता है। ऑल्ट न्यूज ने फर्जी खबर की सच्चाई को सामने लाया, जिसमें कहा गया था कि तमिलनाडु में प्रवासी श्रमिकों पर हमला हो रहा है।

तमिलनाडु सरकार ने ऑल्ट न्यूज के मोहम्मद जुबैर को सांप्रदायिक सद्भाव पुरस्कार दिया
तमिलनाडु सरकार ने ऑल्ट न्यूज के मोहम्मद जुबैर को सांप्रदायिक सद्भाव पुरस्कार दिया
user

नवजीवन डेस्क

तमिलनाडु सरकार ने ऑल्ट न्यूज के सह-संस्थापक मोहम्मद जुबैर को सांप्रदायिक सद्भाव पुरस्कार से सम्मानित किया है। मुख्यमंत्री एम.के. स्टालिन ने आज गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान मोहम्मद जुबैर को कोट्टई अमीर सांप्रदायिक सद्भाव पुरस्कार 2024 प्रदान किया। जुबैर तमिलनाडु के कृष्णागिरि जिले के डेंकानिकोट्टई के मूल निवासी हैं। ऑल्ट न्यूज़ पोर्टल एक तथ्य-जांच पोर्टल है और सोशल मीडिया पोस्ट की सत्यता का विश्लेएषण करता है।

मोहम्मद जुबैर को दिए गए प्रशस्तिपत्र में लिखा है, "उनका काम समाज में फर्जी खबरों के कारण होने वाली हिंसा को रोकने में मदद करता है।" उद्धरण में कहा गया है कि ऑल्ट न्यूज़ ने फर्जी खबरों के पीछे की सच्चाई को सामने लाया, जिसमें कहा गया था कि तमिलनाडु में प्रवासी श्रमिकों पर हमला किया जा रहा है। जुबैर ने वीडियो की जांच के बाद कहा था कि तमिलनाडु में प्रवासी मजदूरों पर हमले का वीडियो फर्जी है। जाहिर तौर पर उनकी तथ्य जांच से तमिलनाडु में बड़ी हिंसा रुक गई।


समारोह के दौरान मुख्यमंत्री स्टालिन ने यू. आई अम्मल उर्फ पूर्णम को मुख्यमंत्री का विशेष पुरस्कार भी सौंपा, जिन्होंने वाई. कोडिकुलम में मदुरै ईस्ट पंचायत यूनियन मिडिल स्कूल को हाई स्कूल के रूप में अपग्रेड करने के लिए अपनी 1.52 एकड़ जमीन दान की थी। उन्होंने अपनी बेटी जननी की याद में अपनी जमीन दान कर दी थी, जिनका निधन हो गया था।

गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान मुख्यमंत्री स्टालिन ने थूथुकुडी जिले के कयालपट्टिनम के मछुआरे यासर अराफात को वीरता के लिए अन्ना पदक, 2024 भी प्रदान किया, जिन्होंने विनाशकारी बाढ़ से लगभग 250 लोगों को बचाने के लिए सिंगीथुराई के एक दर्जन से अधिक मछुआरों का नेतृत्व किया था।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;