तनुश्री दत्ता ने उन्नाव रेप पर उठाई आवाज, कहा- भारत धीरे-धीरे बलात्‍कार की महामारी से होता जा रहा पीड़ित

बॉलीवुड अभिनेत्री तनुश्री दत्ता ने उन्नाव रेप पर अपनी आवाज उठाई है। उन्होंने कहा कि हमारा महान देश भारत धीरे-धीरे बलात्‍कार की महामारी से पीड़ित होता जा रहा है। उन्‍नाव रेप केस इस बात का जीता-जागता और भयानक उदाहरण है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

बॉलीवुड अभिनेत्री तनुश्री दत्‍ता ने मीटू अभियान के तहत अभिनेता नाना पाटेकर पर यौन शोषण का आरोप लगाया था। जिसके बाद इस आरोप पर हंगामा खड़ा हो गया था। तनुश्री दत्ता द्वारा आरोप लगाने के बाद कई महिलाएं इस अभियान से जुड़ी और मुखर होकर अपनी आवाज उठाई। एक बार फिर तनुश्री दत्ता ने उन्नाव रेप पर अपनी आवाज उठाई है। उन्होंने कहा, “हमारा महान देश भारत धीरे-धीरे बलात्‍कार की महामारी से पीड़ित होता जा रहा है। उन्‍नाव रेप केस इस बात का जीता-जागता और भयानक उदाहरण है।”

अभिनेत्री ने आगे कहा, “दुनिया में ऐसी कई जगहें हैं जहां समुद्रतट पर महिलायें किसी भी अवस्‍था में रहें, वहां कोई रेप या ईव-टीजिंग नहीं होती। कुछ लोग ऐसे में हैं जो संस्‍कारी कल्‍चर का राग अलापते हैं और उसके बाद उन महिलाओं को जज करती हैं जो शॉर्ट्स और बिहनी पहनती है। देश के लोगों को अपनी मानसिकता में बदलाव लाने की जरूरत है।”

उन्‍होंने आगे कहा, “समस्या पर्दा नहीं बल्कि आपकी मानसिकता है। अपनी आंखें खोलो और उस अंधेरे को समझो जो इस राष्ट्र को डूबो रहा है। शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में बलात्कार एक महामारी की तरह फैल रही है।”

उन्‍होंने आगे कहा, “बलात्कार, अवसाद, ड्रग्स, युवाओं की हत्‍या कर रहा है. मानवीय खुशी में भारी गिरावट क्यों आई? क्या हमने नैतिक, धार्मिक और सामाजिक मूल्यों को मानवीय मूल्यों से ऊपर रखा है? फिर यह तार्किक अंतिम परिणाम है। अराजकता, दर्द, पीड़ा और आतंक। अब लोगों को उस मासूमियत की स्थिति ले जाइये जब आप बच्चों की तरह थे। फिर एक समय आएगा जब यह अंधेरा हर किसी को एक या दूसरे तरीके से भस्म कर देगा।”

गौरतलब है कि सितंबर 2018 में तनुश्री दत्ता ने नाना पाटेकर पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था। तनुश्री दत्ता ने आरोप लगाया था कि फिल्म ‘हॉर्न ओके प्लीज’ के सेट पर उनके साथ छेड़छाड़ हुई थी। वहीं एक्ट्रेस ने उनके ऊपर हमला करवाने का आरोप भी नाना पाटेकर पर ही लगाया था। जिसके बाद मामला मुंबई पुलिस तक पहुंचा था।

तनुश्री के आरोप के बाद भारत में मी टू अभियान की शुरुआत हो गई थी। कई महिलाओं ने समाने आकर अपने साथ हुए अत्याचार पर आवाज उठाई थी। इस अभियान में साजिद खान, चेतन भगत, आलोक नाथ, विकास बहल, विवेक अग्निहोत्री, रजत कपूर, कैलाश खेर, सुभाष कपूर सहित कई हस्तियों के उपर महिलाओं ने गंभीर आरोप लगाए थे।

Published: 6 Aug 2019, 12:34 PM
लोकप्रिय