मोदी सरकार में बीएसएफ के खाने पर सवाल उठाने वाले जवान तेज बहादुर के बेटे ने की खुदकुशी

सेना में जवानों को मिलने वाले घटिया क्वालिटी के भोजन मिलने की पोल खोलने वाले बीएसएफ जवान तेज बहादुर यादव के बेटे की संदिग्ध हालत में मौत हो गई है। पुलिस इसे आत्महत्या का मामला मानकर जांच शुरू कर दी है।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

मोदी सरकार में खराब खाने पर सवाल उठाने वाले बीएसएफ जवान तेज बहादुर यादव के बेटे रोहित ने गुरुवार रात खुदकुशी कर ली है। हरियाण के रेवाड़ी स्थित अपने मकान में रोहित ने खुद को गोली मारी ली। बताया जा रहा है कि जिस समय की घटना है कि उस समय घर पर कोई नहीं था। पिता तेज बहादुर इस समय प्रयागराज में चल रहे कुंभ मेले में गए हुए हैं। घटना की सूचना मिलने के बाद स्थानीय पुलिस और एफएसएल की टीम मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू कर दी है।

खबरों के मुताबिक, तेज बहादुर यादव का बेटा रोहित कुमार दिल्ली विश्वविद्यालय में बीएससी के सेंकेड ईयर का छात्र था। वहीं हरियाणा पुलिस का कहना है कि शुरुआती जांच में यह आत्महत्या का मामला लग रहा है। पुलिस ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि घटना की जानकारी के बाद हम मौके पर पहुंचे, तो देखा कि कमरा अंदर से लॉक है। अंदर जाने पर हमें बेड पर पड़ा रोहित का मृत मिला। और उसके हाथों में एक पिस्टल भी थी। पुलिस घरवालों से जानकारी ले रही है कि क्या रोहित किसी तरह के तनाव से गुजर रहा था।

बता दें कि बीएसएफ जवान तेज बहादुर उस समय चर्चा में आए थे, जब उन्होंने जनवरी 2017 में खराब खाने को लेकर सोशल मीडिया पर वीडियो डाला था। उनका डाला हुआ वीडियो काफी वायरल हुआ था। इसके बाद अप्रैल, 2017 में बीएसएफ ने उनको अनुशासन हीनता का दोषी मानते हुए बर्खास्त कर दिया था।

Published: 18 Jan 2019, 9:45 AM
लोकप्रिय