यूरोपीय संसद के सदस्यों के कश्मीर दौरे के बीच पुलवामा में आतंकी हमला, परीक्षा केंद्र को बनाया निशाना

यूरोपीयन सांसदों के कश्मीर दौरे के बीच पुलवामा में आतंकी हमला हुआ है। खबरों के मुताबिक, पुलवामा में एग्जाम सेंटर के बाहर तैनात सीआरपीएफ जवानों पर आतंकियों ने हमला कर दिया। हमला एक एग्जाम सेंटर के पास हुआ है। 24 घंटे के अंदर ये दूसरी घटना है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

जम्मू-कश्मीर के पुलवाामा जिले में एक एग्जाम सेंटर के बाहर तैनात सीआरपीएफ जवानों पर आतंकियों ने 6-7 राउंड फायरिंग की। हालांकि इस हमले में अभी तक किसी के घायल होने की खबर नहीं है। 24 घंटे के अंदर की ये दूसरी घटना है। सोमवार को सोपोर में बस स्टैंड के पास ग्रेनेड हमला हुआ था। खबरों के मुताबिक, आतंकियों ने सुरक्षा बलों को निशाना बनाते हुए ग्रेनेड फेंका था। इस हमले में 19 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे।

दूसरी ओर यूरोपीय संसद का एक प्रतिनिधिमंडल मंगलवार को कश्मीर के जमीनी हालात का जायजा लेने के लिए श्रीनगर पहुंचा। जम्मू एवं कश्मीर प्रशासन द्वारा प्रतिनिधिमंडल को प्रजेंटेशन के माध्यम से जानकारी प्रदान क गई। 15 कॉर्प्स हेडक्वॉर्टर पर यूरोपीय सांसदों के प्रतिनिधिमंडल के साथ बैठक में ब्रीफिंग के दौरान सुरक्षाबलों ने उन्हें कश्मीर घाटी में आतंकवाद को बढ़ावा देने में पाकिस्तान की भूमिका और आतंकवादियों को भारत में भेजने में पाकिस्तानी सेना की भूमिका के बारे में बताया।


धारा 370 को रद्द किए जाने और जम्मू एवं कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा वापस लिए जाने के बाद घाटी का दौरा करने वाला पहला विदेशी प्रतिनिधिमंडल यहां रह रहे अलग-अलग समुदाय के लोगों से भी मुलाकात करेगा। इस बीच, कश्मीर में बंद लागू है। दुकाने बंद हैं, सार्वजनिक परिवहन सड़कों से नदारद हैं और निजी वाहनों की संख्या में भी कमी देखी गई। मंगलवार को श्रीनगर का खुला बाजार भी बंद रहा। श्रीनगर के कुछ इलाकों से प्रदर्शनों और झड़पों की खबर सामने आई हैं।

बता दें कि इससे पहले श्रीनगर के करन नगर इलाके में आतंकियों ने सीआरपीएफ की एक टीम पर एक ग्रेनेड फेंक दिया था। जिसमें 6 जवान घायल हो गए थे। पुलिस ने बताया कि हमला उस वक्त हुआ था जब सीआरपीएफ की 144वीं बटालियन की टीम एक नगर के व्यस्त काकासराय इलाके में जांच चौकी पर तैनात थी। इस दौरान आतंकियों ने गोलीबारी भी की थी।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 29 Oct 2019, 5:08 PM