वाह मोदी जी वाह! 'देश में पैदा होने वाले नवजात पर भी 46 हजार का कर्ज', कांग्रेस ने केंद्र पर साधा निशाना

देश में बढ़ती महंगाई और अर्थव्यवस्था के गिरते हाल को लेकर कांग्रेस ने केंद्र की मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा की भारत में पैदा होने वाला हर नवजात शिशु भी अपने सिर पर 46 हजार का कर्ज लेकर पैदा होता है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

देश में बढ़ती महंगाई और अर्थव्यवस्था के गिरते हाल को लेकर कांग्रेस ने केंद्र की मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा की भारत में पैदा होने वाला हर नवजात शिशु भी अपने सिर पर 46 हजार का कर्ज लेकर पैदा होता है। कांग्रेस की प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने शनिवार को केंद्र की मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि देश में बढ़ती महंगाई की वजह से कुपोषण और भुखमरी लगातार बढ़ती जा रही है। भुखमरी के आंकड़ों में भारत आज नेपाल, बांग्लादेश और पाकिस्तान से भी बत्तर स्थिति में है।

सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि साल 2014 से 2022 तक पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस के दाम तो बढ़े ही हैं, इस दौरान आटा, चायपत्ती, सब्जी दूध जैसी जरूरी चीजों के दाम काफी ज्यादा बढ़े हैं। उन्होंने कहा कि, जनवरी 2014 से मार्च 2022 तक कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स में शामिल 299 मे 235 चीजों के दाम पेट्रोल के दाम में बढ़ोतरी से ज्यादा बढ़े हैं। दो सालों में घर चलाने का खर्च करीब 44 फीसदी बढ़ गया है। वहीं देश में 84 फीसदी आबादी की आमदनी पिछले 2 सालों में घट गई है।


कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि, दूध के दाम 40 फीसदी , घी के दाम 38 प्रतिशत, आटा के दाम 27 फीसदी और खाद्य तेल 96 फीसदी मंहगा हुआ है। दाल से लेकर प्याज और बैंगन तक 56 फीसदी मंहगा हुआ है। अस्पताल का खर्चा 71 प्रतिशत मंहगा हो गया है, दवाई 55 फीसदी मंहगी हो गई है। उन्होंने केंद्र सरकार से सवाल किया कि जब देश के आधी से अधिक आबादी की आय घटी है तो सरकार मंहगाई को काबू में करने के लिए क्या कर रही है? क्या सरकार श्वेत पत्र जारी कर ये बताएगी की इस पर काबू पाने के लिए सरकार क्या कदम उठा रही है?

वहीं राजस्थान के अलवर में मंदिर को गिराए जाने के मामले को लेकर सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि, सड़क के चौड़ीकरण का प्रस्ताव बीजेपी की वसुंधरा सरकार का था। अलवर नगर निगम में बीजेपी का बहुमत है अध्यक्ष भी बीजेपी के हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी राजस्थान में वैमनस्यता फैलाने की कोशिश कर रही है लेकिन अशोक गहलोत के राजस्थान में कानून व्यवस्था बनी हुई है। रामनवमी में आपके मौके पर बीजेपी शासित मध्यप्रदेश में हिंसा हुई राजस्थान में सबने मिलकर धूमधाम से मनाई है।


उन्होंने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि बनारस में जो मंदिर तोड़े गए इसके लिए कौन माफी मांगेगा? क्या वहां के सांसद माफी मांगेंगे या राज्य सरकार के खिलाफ कार्रवाई होगी? जब आप करते हैं तो उसमें विकास, न्यू इंडिया बताते हैं, दूसरी सरकार में हिन्दू-मुस्लिम करने में लग जाते हैं।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;