धोनी से मिलने 20 दिनों तक 1436 किमी पैदल चला फैन, पांवों में पड़े छाले, जब मुलाकात हुई तो बोला...

बुधवार की रात महेंद्र सिंह धोनी ने अपने इस फैन को रांची के सिमलिया स्थित अपने फॉर्म हाउस में रुकवाया। उसके साथ तस्वीरें खिंचवायीं। एक बैट पर उसे अपना ऑटोग्राफ दिया और उसकी घर वापसी के लिए फ्लाइट टिकट की व्यवस्था कराई।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी के एक फैन 18 वर्षीय अजय गिल ने उनसे मुलाकात के लिए 1436 किलोमीटर की दूरी पैदल नाप दी। 20 दिनों के सफर में उसके पांवों में छाले पड़ गये। बुधवार देर शाम रांची में धोनी से उनके फॉर्म हाउस में मुलाकात के साथ उसकी मुराद पूरी हो गयी। अजय ने धोनी को 'आई लव यू' बोला तो धोनी ने मुस्कुराते हुए उसे गले लगा लिया।

अजय ने कहा कि यह उसकी जिंदगी का सबसे खूबसूरत दिन है और आज वह खुद को सबसे बड़ा भाग्यशाली समझ रहा है। जिनसे मिलने के सपने वह पिछले कई सालों से दिन-रात देखा करता था, उनसे मिलकर उसका जीवन सफल हो गया है। बुधवार की रात महेंद्र सिंह धोनी ने अपने इस फैन को रांची के सिमलिया स्थित अपने फॉर्म हाउस में रुकवाया। उसके साथ तस्वीरें खिंचवायीं। एक बैट पर उसे अपना ऑटोग्राफ दिया और उसकी घर वापसी के लिए फ्लाइट टिकट की व्यवस्था करायी।

अजय हरियाणा के जलान खेड़ा का रहने वाला है और यह दूसरी बार है कि जब वह महेंद्र सिंह धोनी से मिलने के लिए लगभग साढ़े चौदह सौ किलोमीटर पैदल चलकर रांची पहुंचा था। इसके पहले वह इसी साल 26 जुलाई को भी रांची पहुंचा था। उस वक्त धोनी रांची में नहीं थे और अजय की उनसे मुलाकात नहीं हो पायी थी। वह यहां कई दिनों तक सड़कों के किनारे फुटपाथ पर रहता था। बाद में स्थानीय लोगों ने उसे फ्लाइट के जरिए वापस हरियाणा भेजा था।


महेंद्र सिंह धोनी के लिए ऐसी दीवानगी क्यों? इस सवाल पर अजय कहता है कि वह धोनी का दीवाना सिर्फ इसलिए नहीं है कि वह एक शानदार क्रिकेटर हैं, बल्कि टीवी पर उनकी बातें सुनकर और उनके व्यवहार के बारे में जानकर वह उनसे बेहद प्रभावित है। अजय ने कहा कि कुछ दिनों पहले धोनी उसके सपने में आए थे तब उसने पूछा था कि वह उससे कब मिलेंगे? सपने में ही धोनी ने उससे कहा था कि इस बार जरूर मुलाकात होगी।

इस सपने के बाद जब उसकी आंखें खुलीं तो वह एक बार फिर पैदल रांची के लिए निकल पड़ा और 20 दिनों तक लगातार चलने के बाद यहां आ पहुंचा। अजय ने कहा कि वह भी क्रिकेट में करियर बनाना चाहता है, लेकिन उसने कुछ साल पहले संकल्प लिया था कि जब तक धोनी से मुलाकात नहीं होगी, तब तक बल्ला नहीं उठायेगा। अब उनसे मुलाकात हो गयी है तो वह वापस घर जाकर कॉलेज की पढ़ाई करेगा और साथ में क्रिकेट खेलना शुरू करेगा।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia