देश के जिन हिस्सों में नहीं पहुंचा मानसून, कब तक पहुंचेगा? मौसम विभाग ने बताया, बारिश का अलर्ट भी किया जारी

उत्तर प्रदेश के कई जिलों में मानसून 22 जून को ही दस्तक दे चुका है। हालांकि आज यानी 23 जून 2023 को लखनऊ में मानसून पूरी तरह से एक्टिव हो जाएगा।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा है कि दक्षिण पश्चिम मानसून कई राज्यों के कुछ हिस्सों में आगे बढ़ गया है। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। आईएमडी ने कहा कि दक्षिण-पश्चिम मानसून तेलंगाना के कुछ हिस्सों, आंध्र प्रदेश के अधिकांश हिस्सों, ओडिशा के कुछ हिस्सों, पश्चिम-मध्य-उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी के कुछ हिस्सों, गंगीय पश्चिम बंगाल के अधिक हिस्सों, झारखंड और बिहार की ओर बढ़ गया है।

उत्तर प्रदेश के कई जिलों में मानसून 22 जून को ही दस्तक दे चुका है। हालांकि आज यानी 23 जून 2023 को लखनऊ में मानसून पूरी तरह से एक्टिव हो जाएगा। इसके अलावा 25 जून से पश्चिमी यूपी के कई जगहों पर बारिश के आसार हैं। पश्चिमी और पूर्वी यूपी में 26 जून को करीब हर जगह बारिश और बौछार पड़ने की संभावना है। मौसम पूवार्नुमान एजेंसी ने कहा कि अगले दो-तीन दिनों के दौरान दक्षिण प्रायद्वीपीय भारत के कुछ और हिस्सों, ओडिशा के शेष हिस्सों, गंगीय पश्चिम बंगाल, झारखंड और बिहार और छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में दक्षिण-पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल हैं।

इस बीच, विदर्भ के अलग-अलग हिस्सों में गर्मी की लहर जारी रहने और उसके बाद कम होने की संभावना है। आईएमडी ने यह भी भविष्यवाणी की है कि अगले सात दिनों के दौरान देश के उत्तर-पूर्व और इससे सटे पूर्व में अधिकांश स्थानों पर हल्की/मध्यम बारिश होगी, साथ ही अलग-अलग स्थानों पर आंधी और बिजली गिरने की भी संभावना है। इसमें कहा गया, ''23 जून को असम, मेघालय, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम और अरुणाचल प्रदेश में भारी से बहुत भारी बारिश होगी।''

आईएमडी ने यह भी कहा कि 23 जून को बिहार में, 25 जून को गंगीय पश्चिम बंगाल में और 22-26 जून के दौरान ओडिशा में अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा होने की संभावना है, 23 से 25 जून को ओडिशा में अलग-अलग स्थानों पर बहुत भारी वर्षा होने की संभावना है। इसमें कहा गया है, ''पूर्वी भारत में 27 जून से बारिश बढ़ने की संभावना है और 27-28 जून के दौरान ओडिशा, दक्षिण झारखंड और गंगीय पश्चिम बंगाल के आसपास के इलाकों में भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है।''


इस बीच, 23 से 28 जून तक हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश में और 25 जून से पश्चिम राजस्थान को छोड़कर उत्तर पश्चिम भारत के मैदानी इलाकों में अलग-अलग गरज और बिजली के साथ हल्की/मध्यम व्यापक वर्षा होने की संभावना है। आईएमडी ने कहा, 27-28 जून के दौरान पश्चिमी राजस्थान में अलग-अलग स्थानों पर हल्की बारिश/आंधी और बिजली गिरने की संभावना है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


/* */