देवबंद में भी एक जलसा हुआ था, एक कोरोनो वायरस पॉजिटिव मरीज मिला, मचा हड़कंप 

दिल्ली की तब्लीगी जमात की तरह देवबंद में आयोजित एक बैठक में एक कश्मीरी समेत 11 लोगों ने हिस्सा लिया था। यह आयोजन दारुल उलूम से सटे मोहम्मदी मस्जिद में 9 मार्च से 11 मार्च तक आयोजित किया गया था। इस समूह के वापस जाने के बाद कश्मीर के सदस्य का कोरोनावायरस परीक्षण पॉजिटिव निकला।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

आईएएनएस

देवबंद के दारुल उलूम ने भले ही अपने किसी भी सदस्य को नई दिल्ली की तब्लीगी जमात में नहीं भेजा। लेकिन यहां भी एक कोरोनावायरस पॉजिटिव व्यक्ति मिला है। सूत्रों के अनुसार, इस महीने की शुरूआत में नई दिल्ली की तब्लीगी जमात की तरह देवबंद में आयोजित एक बैठक में एक कश्मीरी समेत 11 लोगों ने हिस्सा लिया था। यह आयोजन दारुल उलूम से सटे मोहम्मदी मस्जिद में 9 मार्च से 11 मार्च तक आयोजित किया गया था। इस समूह के वापस जाने के बाद कश्मीर के सदस्य का कोरोनावायरस परीक्षण पॉजिटिव निकला।

सहारनपुर में पुलिस अधिकारियों को तुरंत इसकी सूचना दी गई और इसके बाद पूरी मस्जिद को सील कर दिया गया। जो भी लोग इस समूह के संपर्क में आए थे, वो सभ चिकित्सकीय निगरानी में थे और उन सभी का कोरोनावायरस परीक्षण निगेटिव आया था। हालांकि दारुल उलूम का कोई भी अधिकारी इस बारे में अधिक जानकारी देने के लिए तैयार नहीं था, लेकिन एक सूत्र ने बताया है कि जिन लोगों की स्क्रीनिंग की गई थी, उन सभी को तय समय के लिए आइसोलेशन में रखा गया था।


गौरतलब है कि दिल्ली के निजामुद्दीन के मरकज भवन में मौजूद 24 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इसकी पुष्टि दिल्ली के स्वास्थय मंत्री सत्येंद्र जैन ने की है। सत्येंद्र जैन ने कहा कि हम संख्या के बारे में निश्चित नहीं हैं, लेकिन यह अनुमान है कि 1500-1700 लोग मारकज भवन में इकट्ठे हुए थे। 1033 लोगों को अब तक निकाला गया है। उनमें से 334 लोगों को अस्पताल भेजा गया है और 700 को क्वारंटीन केंद्र भेजा गया है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;