'नेहरू ने भारत के लिए अपनी जिंदगी दे दी, अमित शाह को इतिहास नहीं मालूम', राहुल गांधी ने गृहमंत्री पर बोला हमला

राहुल गांधी ने कहा, "ये सब ध्यान भटकाने वाली रणनीति है। मूल मुद्दा जाति आधारित जनगणना है और लोगों का पैसा किसे मिल रहा है? BJP इस मुद्दे पर चर्चा नहीं करना चाहते हैं, वे इससे दूर भागते हैं।"

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने मंगलवार को बीजेपी पर पलटवार करते हुए कहा कि वे देश के वास्तविक मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू के बारे में बात करते रहते हैं। राहुल गांधी ने फिर जाति आधारित जनगणना की मांग दोहराई और सरकार पर इस पर चर्चा नहीं करने का आरोप लगाया। राहुल गांधी ने कहा कि पंडित जवाहरलाल नेहरू जी ने हिंदुस्तान के लिए अपना जीवन दे दिया, वर्षों तक जेल में रहे। अमित शाह जी को शायद इतिहास की जानकारी नहीं है, वे सिर्फ मुद्दे से गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं।

संसद के बाहर मीडिया से बात करते हुए राहुल गांधी ने कहा, "ये सब ध्यान भटकाने वाली रणनीति है। मूल मुद्दा जाति आधारित जनगणना है और लोगों का पैसा किसे मिल रहा है? वे इस मुद्दे पर चर्चा नहीं करना चाहते हैं, वे इससे दूर भागते हैं।" केरल के वायनाड से लोकसभा सांसद ने कहा, "हम इस मुद्दे को आगे बढ़ाएंगे और सुनिश्चित करेंगे कि गरीबों को उनका हक मिले।"


छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के रूप में एक ओबीसी नेता की घोषणा पर राहुल गांधी ने कहा कि छत्तीसगढ़ में हमारा मुख्यमंत्री भी ओबीसी से था, अब उन्होंने भी एक ओबीसी मुख्यमंत्री की घोषणा की है। लेकिन सवाल यह है कि सरकारी व्यवस्था में कितने ओबीसी हैं?" उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी ओबीसी वर्ग से हैं, लेकिन केंद्र सरकार को 90 लोग चला रहे हैं और उनमें से केवल तीन लोग ओबीसी वर्ग से हैं।

राहुल गांधी ने कहा, "मेरा सवाल संस्थागत व्यवस्था में ओबीसी, दलितों और आदिवासियों की भागीदारी के बारे में है। वे हमें इस मुद्दे से भटकाने के लिए जवाहरलाल नेहरू और अन्य के बारे में बात करते हैं।"

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;