Ramban tunnel Collapse: रेस्क्यू के दौरान मिले और शव, अब तक 5 की मौत, अभी भी फंसे कई मजदूर

रामबन के उपायुक्त मस्सारत इस्लाम ने बताया कि अब तक तीन शव बरामद कर रामबन अस्पताल भेजे जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि एक और शव देखा गया है। जिसको बरामद करने की प्रक्रिया जारी है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

जम्मू-कश्मीर के रामबन जिले में जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर निर्माणाधीन फोर लेन की सुरंग का एक हिस्सा गुरुवार रात गिर गया था। सुरंग का हिस्सा गिरने की वजह से वहां पर काम करने वाले कई मजदूर फंसे हुए हैं। खराब मौसम के कारण रेस्क्यू ऑपरेशन अभी भी जारी है। प्रशासन के मुताबिक हादसे में अब तक 5 मौतों की पुष्टि की जा चुकी है। जानकारी के मुताबिक अंदर फंसे लोग सुरंग के ऑडिट का काम करने वाली कंपनी के लोग बताए जा रहे हैं।

रामबन के उपायुक्त मस्सारत इस्लाम ने बताया कि अब तक 5 शव बरामद कर रामबन अस्पताल भेजे जा चुके हैं। रामबन की एसएसपी मोहिता शर्मा मौके पर मौजूद हैं। मोहिता का कहना है कि ''वहां 7-8 और लोग फंसे हो सकते हैं। हम बचाव अभियान तेजी से चला रहे हैं। यह अंतिम तक जारी रहेगा।


इससे पहले नायब तहसीलदार जावेद ने बताया था कि हमने भूस्खलन स्थल पर मलबा हटाने का काम फिर से शुरू कर दिया है। काम को जल्द से जल्द पूरा करने के लिए मशीनरी व तकनीकी कर्मियों की संख्या बढ़ाई गई है। तहसीलदार ने बताया कि शुक्रवार सुबह हमने बचाव अभियान 9:30 बजे शुरू किया और 5:30 बजे तक 90% रास्ता साफ कर दिया था। सिर्फ 10% ही मलबा रह गया था। उसके बाद एक नया भूस्खलन आया। जिसके बाद दोबारा मशीनें लानी पड़ी।

फिलहाल मलबे में दबे मजदूर की पहचान नहीं हो पाई है। बता दें कि इससे पहले शुक्रवार को भी मलबे से एक श्रमिक का शव मिला था। बताया जा रहा है कि अभी भी 7-8 लोग मलबे में दबे हुए हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia