अयोध्या केस: सुप्रीम कोर्ट की तीन स्तरीय सुरक्षा, भगवान दास रोड पर आवागमन बंद, जजों की भी सुरक्षा बढ़ी

अयोध्या मामले को लेकर पूरे देश में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी गई है। इसी कड़ी में सुप्रीम कोर्ट की भी तीन स्तरीय सुरक्षा कर दी गई है और करीब 500 पुलिस कर्मी सुरक्षा में तैनात किए गए हैं।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के मद्देनजर देश की राजधानी दिल्ली समेत पूरे देश में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। इसी कवायद में बीती आधी रात के बाद से ही सुप्रीम कोर्ट की तरफ जाने वाली भगवान दास रोड को बंद कर दिया गया और दिल्ली पुलिस के सशस्त्र जवानों को तैनात कर दिया गया है। सुप्रीम कोर्ट के सभी द्वार पर दिल्ली पुलिस के 500 पुलिसकर्मी और तीन कंपनी अर्धसैनिक बलों को तैनात किया जा रहा है।

सुरक्षा व्यवस्था इतनी कड़ी है कि सुबह 8 बजे के बाद से सुप्रीम कोर्ट की तरफ जाने वाले भगवान दास रोड पर किसी के भी आने-जाने पर रोक लगा दी गई है। यहां तक कि सुप्रीम कोर्ट स्टाफ को भी नहीं जाने दिया जा रहा है। सुप्रीम कोर्ट के आसपास तीन स्तरीय सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं।


शुक्रवार देर शाम यह खबर आते ही कि सुप्रीम कोर्ट शनिवार सुबह 10:30 बजे अयोध्या विवाद पर फैसला देगा, इसके बाद दिल्ली पुलिस के आला अधिकारियों ने सुरक्षा को लेकर एक आपात बैठक की और दिल्ली के तमाम हिस्सों में सुरक्षा को बढ़ाते हुए पेट्रोलिंग में तेज कर दी गई।

संवेदनशील इलाकों पर सीसीटीवी के जरिए नजर रखी जा और सादी वर्दी में भी पुलिसवालों को तैनात किया गया है। दिल्ली पुलिस ने अपील की है कि लोग सोशल मीडिया के जरिए शांति और सौहार्द बनाए रखें।

इसके अलावा अयोध्या मामले पर फैसला सुनाने वाले जजों की सुरक्षा भी बढ़ा दी गई है। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस एसए बोबडे, जस्टिस धनंजय यशवंत चंद्रचूड़, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस अब्दुल नजीर के घरों पर सुरक्षाबलों की तैनाती की गई है।


नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia