उत्तर प्रदेश में आज जुमे की नमाज के लिए कड़ी की गई सुरक्षा व्यवस्था, कानपुर और लखनऊ में धारा 144 लागू

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजी) कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने कहा कि संवेदनशील इलाकों और पूजा स्थलों पर रणनीतिक रूप से पुलिस की तैनाती की गई है। प्रशांत कुमार ने कहा कि पुलिस अधिकारी शांति और सांप्रदायिक सौहार्द बनाए रखने के लिए मौलवियों और समूह के अन्य नेताओं के संपर्क में हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

तीन जून को कानपुर में हुई हिंसा के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस ने आज शुक्रवार की नमाज के लिए सभी जिला पुलिस प्रमुखों को मस्जिदों के आसपास सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। सरकारी प्रवक्ता के अनुसार, सड़कों और सार्वजनिक स्थानों पर भीड़ को रोकने के लिए कानपुर और लखनऊ में दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 144 लागू की गई है।

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजी) कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने कहा कि संवेदनशील इलाकों और पूजा स्थलों पर रणनीतिक रूप से पुलिस की तैनाती की गई है। प्रशांत कुमार ने कहा कि पुलिस अधिकारी शांति और सांप्रदायिक सौहार्द बनाए रखने के लिए मौलवियों और समूह के अन्य नेताओं के संपर्क में हैं।

एडीजी ने कहा कि फिरोजाबाद, शामली, सहारनपुर, मुरादाबाद, आगरा, अयोध्या, वाराणसी, गोरखपुर, कानपुर और लखनऊ सहित संवेदनशील जिलों में विशेष तैनाती की गई है। एडीजी ने कहा कि प्रांतीय सशस्त्र कांस्टेबुलरी (पीएसी) की 12 कंपनियां पहले से ही कानपुर में डेरा डाले हुए हैं, जबकि कुछ कंपनियों को संवेदनशील जिलों में भेजा गया है।

कानपुर में पीएसी की 12 कंपनियों, तीन अतिरिक्त आईपीएस अधिकारियों और रैपिड एक्शन फोर्स की दो कंपनियों की तैनाती के साथ सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 10 Jun 2022, 9:28 AM