त्रिपुरा में सांसद सुष्मिता देव समेत TMC नेताओं पर हमला, बीजेपी के लोगों पर आरोप, गाड़ी पूरी तरह क्षतिग्रस्त हुई

टीएमसी नेताओं ने आरोप लगाया कि एक कार्यक्रम के दौरान बीजेपी कार्यकर्ताओं ने उन पर हमला किया, जिसमें उनकी कार क्षतिग्रस्त हो गई। पार्टी ने कहा कि हमले में सुष्मिता देव घायल हो गईं, जबकि टीएमसी कार्यकर्ताओं के मोबाइल और अन्य कीमती सामान हमलावरों ने लूट लिया।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

तृणमूल कांग्रेस की राज्यसभा सांसद सुष्मिता देव और पार्टी के 10 अन्य नेताओं पर शुक्रवार को पश्चिमी त्रिपुरा के अमताली में गंभीर हमला हुआ है। आरोप है कि सत्तारूढ़ बीजेपी के लोगों ने ये हमला किया है। पश्चिम त्रिपुरा जिला पुलिस प्रमुख माणिक लाल दास के अनुसार, तृणमूल ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है, जिसके बाद घटना की जांच की जा रही है। दास ने बताया कि हमले में टीएमसी की एक कार क्षतिग्रस्त हो गई है। सांसद सुष्मिता देव या उनकी पार्टी के अन्य सदस्यों को कोई शारीरिक चोट नहीं आई है।

हालांकि बीजेपी ने टीएमसी नेताओं पर हमले के आरोपों को खारिज किया है। बीजेपी प्रवक्ता नबेंदु भट्टाचार्जी ने मीडिया से कहा, "यह घटना उनके आंतरिक कलह का हिस्सा है। तृणमूल कांग्रेस सदस्य जो हाल ही में गठित त्रिपुरा संचालन समिति में जगह नहीं बना सके, वे इसके पीछे हैं।"

अमताली पुलिस स्टेशन में दी गई एक शिकायत में तृणमूल नेताओं ने आरोप लगाया कि एक आउटरीच कार्यक्रम के दौरान बीजेपी कार्यकर्ताओं ने उन पर हमला किया, जिसमें उनकी कार क्षतिग्रस्त हो गई। पार्टी के एक बयान में कहा गया है कि हमले में सुष्मिता देव घायल हो गईं, जबकि टीएमसी कार्यकर्ताओं के मोबाइल और अन्य कीमती सामान हमलावरों ने लूट लिया।


तृणमूल कांग्रेस के महासचिव अभिषेक बनर्जी ने ट्वीट करते हुए इस घटना की निंदा की है। उन्होंने कहा है कि त्रिपुरा में बिप्लब देव के नेतृत्व में गुंडाराज व्याप्त है और राजनीतिक विरोधियों पर हमले के नए रिकॉर्ड स्थापित हो रहे हैं। बनर्जी ने कहा कि एक मौजूदा महिला राज्यसभा सांसद सुष्मिता देव को त्रिपुरा बीजेपी के गुंडों द्वारा शारीरिक रूप से परेशान करना बेहद शर्मनाक है। उन्होंने आगे चेताते हुए कहा कि समय निकट ही है और त्रिपुरा के लोग इसका जवाब देंगे!

दरअसल टीएमसी सुप्रीमो और पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के दृष्टिकोण, योजनाओं और संदेशों को सामने लाने के लिए तृणमूल ने गुरुवार को 12 दिवसीय राज्यव्यापी कार्यक्रम- त्रिपुरार जोनो तृणमूल (त्रिपुरा के लिए तृणमूल) शुरू किया था। त्रिपुरा में पार्टी के पहले मेगा कार्यक्रम की घोषणा करते हुए देव और राज्य की संचालन समिति के संयोजक सुबल भौमिक ने गुरुवार को कहा कि त्रिपुरार जोनो तृणमूल कार्यक्रम के माध्यम से पार्टी के नेता राज्य भर में जमीनी स्तर पर लोगों तक पहुंचेंगे।


उन्होंने कहा कि त्रिपुरा के आठ जिलों, 58 ब्लॉक और 20 शहरी स्थानीय निकायों को कवर करते हुए पार्टी के नेता लोगों के साथ बातचीत करेंगे और बीजेपी के 'मिस-गवर्नेंस' से उत्पन्न उनके मुद्दों को सुनेंगे। देव फिलहाल पार्टी संगठन को मजबूत करने के लिए पूरे राज्य का दौरा कर रही हैं। त्रिपुरा में 2023 में होने वाले विधानसभा चुनावों पर नजर रखते हुए, मंत्रियों और सांसदों सहित तृणमूल के वरिष्ठ नेता संगठन बनाने और बीजेपी शासित त्रिपुरा में समर्थन हासिल करने के लिए जुलाई से अक्सर राज्य का दौरा कर रहे हैं।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia