किसान संगठनों और सरकार से बातचीत करने वालों की बैठक आज, आंदोलन खत्म करने के लिए राकेश टिकैत ने रखी ये शर्तें

किसान नेता दर्शनपाल सिंह ने न्यूज एजेंसी ANI से बातचीत में कहा है कि आज 32 किसान संगठन और वे लोग जो सरकार के साथ बातचीत के लिए जाते थे, उनकी बैठक बुलाई गई है।

फोटोः किसान एकता मोर्चा
फोटोः किसान एकता मोर्चा
user

नवजीवन डेस्क

एमएसपी गारंटी कानून, किसानों के खिलाफ दर्ज केस समेत अभी भी कई मांगों को लेकर दिल्ली की सीमा पर डटे किसानों ने आज फिर बैठक बुलाई है। किसान नेता दर्शनपाल सिंह ने न्यूज एजेंसी ANI से बातचीत में कहा है कि आज 32 किसान संगठन और वे लोग जो सरकार के साथ बातचीत के लिए जाते थे, उनकी बैठक बुलाई गई है।

उन्होंने कहा कि ग़लती से घोषणा हो गई कि संयुक्त किसान मोर्चे की बैठक है। किसान नेता दर्शनपाल सिंह ने आगे कहा कि हमारे लोगों के खिलाफ दर्ज़ मामलों, MSP की कमेटी के मुद्दे पर चर्चा होगी।

उधर राकेश टिकैत ने कहा है कि संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) की बैठक 4 दिसंबर को होने वाली है। आज की बैठक किसान संगठनों के बीच है। हमारा आंदोलन खत्म नहीं होगा क्योंकि सरकार ने अभी तक हमारी मांगों को स्वीकार नहीं किया है

BKU प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा है कि 50-55 हज़ार मुकदमें जो आंदोलन के दौरान दर्ज़ हुए हैं वे वापस लिए जाएं, MSP गारंटी क़ानून बनें, जिन किसानों ने जान गंवाई है उन्हें मुआवजा मिले, जो ट्रैक्टर बंद हैं उन्हें ट्रैक्टर दिए जाएं। अब ये हमारे मुख्य मुद्दे हैं। सरकार को बातचीत करनी चाहिए।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia