नहीं बंद होंगी ट्रेनें, पहले की तरह चलती रहेंगी, रेल मंत्री ने लॉकडाउन को लेकर अफरातफरी पर किया साफ

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि किसी स्टेशन पर प्रवासी मजदूर बड़ी संख्या में आए हों और उन्हें तकलीफ हो, ऐसी बात नहीं है। मैं खुद व्यवस्था की मॉनीटरिंग कर रहा हूं। रेलवे के चेयरमैन से लेकर सभी अफसर कड़ी निगरानी कर रहे हैं। हम स्पेशल ट्रेन भी चलवा रहे हैं।

फाइल फोटोः सोशल मीडिया
फाइल फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

देश भर में जारी कोरोना वायरस के कहर के बीच लॉकडाउन की आशंकाओं को लेकर मची अफरातफरी पर रेल मंत्री पीयूष गोयल ने साफ किया है कि लोगों को परेशान होने की जरूरत नहीं है। ट्रेनें पहले की तरह चलती रहेंगी। रेलवे स्टेशनों पर प्रवासी मजदूरों की भीड़ उमड़ने पर उन्होंने कहा कि किसी प्रकार का कोई लॉकडाउन नहीं है। लोग पहले की तरह टिकट बुक कराकर आसानी से कहीं भी जा सकेंगे।

मंगलवार को कैबिनेट में लिए फैसलों की जानकारी देने के लिए वर्चुअल मोड में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में एक सवाल के जवाब में रेल मंत्री पीयूष गोयल ने लॉकडाउन की आशंका को खारिज किया। उन्होंने कहा, "किसी रेलवे स्टेशन पर प्रवासी मजदूर बड़ी संख्या में आए हों और उन्हें तकलीफ हो, ऐसी बात नहीं है। मैं खुद निजी रूप से व्यवस्था की मॉनीटरिंग कर रहा हूं। रेलवे चेयरमैन से लेकर सभी अफसर व्यवस्था की कड़ी निगरानी कर रहे हैं। स्पेशल ट्रेन भी चलवा रहे हैं।"


इसके साथ ही रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि प्रवासी मजदूर हों या कोई भी, किसी को घबराने की कोई जरूरत नहीं है। हमारी गाड़ियां उपलब्ध हैं। किसी प्रकार का कोई लॉकडाउन नहीं है। ट्रेनें चालू हैं। ट्रेन चल रही हैं और आगे भी चलती रहेंगी। लोग टिकट बुक कराकर कहीं भी आ-जा सकते हैं।

बता दें कि दिल्ली में एक हफ्ते के लॉकडाउन की घोषणा होते ही प्रवासी मजदूरों का पलायन मानों इस तरह शुरू हुआ जैसे कि पूरे देश मे लॉकडाउन लग गया हो। सोमवार को दिल्ली और आसपास के सभी रेलवे स्टेशनों और आनंद विहार बस स्टैंड और गाजियाबाद स्थित कौशम्बी बस स्टैंड पर यूपी और बिहार जाने वाले प्रवासी मजदूरों की भीड़ उमड़ पड़ी। रात तक अफरातफरी के हालात बन गए। एक के ऊपर एक लोग चढ़ बस पकड़ने की कोशिश कर रहे थे। सीट नहीं मिलने पर बस की छतों पर बैठकर प्रवासी घर जाने पर मजबूर देख गए।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia