TMC सांसद शांतनु सेन पूरे मानसून सत्र से लिए राज्‍यसभा से निलंबित, IT मंत्री से कागजात छीनकर फाड़ने पर हुई कार्रवाई

गुरुवार को आईटी मंत्री अश्विनी वैष्णव पेगासस जासूसी विवाद पर एक बयान पढ़ रहे थे, जब तृणमूल कांग्रेस के सांसदों ने उनके हाथों से रिपोर्ट छीन ली और इसे राज्यसभा के पटल पर फाड़ दिया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

आईएएनएस

तृणमूल सांसद शांतनु सेन को शुक्रवार को राज्य सभा में आईटी मंत्री अश्विनी वैष्णव से पेपर छीनने के एक दिन बाद मानसून सत्र के शेष भाग के लिए निलंबित कर दिया गया है। सदन के सभापति एम. वेंकैया नायडू ने उन्हें सदन से जाने और सदन को चलने देने के लिए कहा। संसदीय कार्य राज्य मंत्री वी. मुरलीधरन ने सत्र के शेष भाग के लिए शांतनु सेन के खिलाफ निलंबन प्रस्ताव पेश किया। जबकि तृणमूल के सुखेंदु शेखर रॉय ने व्यवस्था का मुद्दा उठाया कि यह कार्यवाही की सूची में नहीं था, सभापति ने कहा कि उन्होंने इसकी अनुमति दी थी।

तृणमूल के एक अन्य सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि सदन स्थगित होने के बाद गुरुवार को मंत्रियों की ओर से गुंडागर्दी हुई। हंगामे के बाद सदन की कार्यवाही आज दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। शुक्रवार को कार्यवाही की शुरूआत में, सभापति वेंकैया नायडू ने कहा, "मैं सदन में होने वाली घटनाओं से बहुत व्यथित हूं। दुर्भाग्य से, सदन की कार्यवाही एक नए स्तर पर पहुंच गई।" सुबह सदन के नेता पीयूष गोयल, सदन के उपनेता मुख्तार अब्बास नकवी और संसदीय कार्य राज्य मंत्री वी. मुरलीधरन ने सभापति एम. वेंकैया नायडू से मुलाकात की।

गुरुवार को आईटी मंत्री अश्विनी वैष्णव पेगासस जासूसी विवाद पर एक बयान पढ़ रहे थे, जब तृणमूल कांग्रेस के सांसदों ने उनके हाथों से रिपोर्ट छीन ली और इसे राज्यसभा के पटल पर फाड़ दिया। तृणमूल सांसद शांतनु सेन को राष्ट्रीय टेलीविजन पर मंत्री के हाथ से रिपोर्ट छीनते, फाड़ते और फिर कटे हुए टुकड़ों को हवा में फेंकते देखा गया था।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia