फिर बदला ट्विटर का लोगो, डॉग की जगह नीली चिड़िया की वापसी, मस्क के फैसले से डॉजकॉइन में आई गिरावट

एलन मस्क ने ट्विटर के लोगो को एक बार फिर बदल दिया है। 'डॉज' यानी डॉग की जगह ट्विटर पर नीली चिड़िया की वापसी हो गई है। लेकिन इस बदलाव के बाद 'डॉज' से जुड़े क्रिप्टोकरेंसी डॉजकॉइन में करीब 10% की गिरावट आ गई है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर नीली चीड़िया की फिर से वापसी हो गई है। एलन मस्क ने ट्विटर के लोगो को एक बार फिर बदल दिया है। मस्क ने तीन दिन पहले नीली चिड़िया की जगह डॉज यानी एक डॉग को ट्विटर का लोगो बनाया था। हालांकि, ये बदलाव केवल वेब वर्जन पर हुआ था, ऐप पर नहीं। लेकिन अब एक बार फिर मस्क ने फैसला बदल लिया है, जिसके बाद नीली चिड़िया वाला लोगो फिर से आ गया है। अब ये वेब और ऐप दोनों जगह नजर आ रहा है। वहीं, इस बदलाव के बाद क्रिप्टोकरेंसी डॉजकॉइन में करीब 10% की गिरावट आ गई है।

यहां बता दें कि सॉफ्टवेयर इंजीनियर बिली मार्कस और जैकसन पालमर ने साल 2013 में बिटकॉइन जैसी क्रिप्टोकरेंसी का मजाक उड़ाने के लिए डॉजकॉइन की शुरुआत की थी। टेस्ला के मालिक मस्क कई मौकों पर डॉजकॉइन को अपनी पसंदीदा क्रिप्टोकरेंसी बता चुके हैं। मस्क ने फरवरी 2022 में डॉजकॉइन के समर्थन में कई ट्वीट किए थे, जिसके बाद इस क्रिप्टोकरेंसी की कीमत उछलकर 5 सेंट पहुंच गई थी। इसके बाद हाल में मस्क ने ट्विटर के लोगो से नीली चीड़िया को हटाते हुए इसी क्रिप्टोकरेंसी के डॉग की फोटो का इस्तेमाल किया था।


तीन दिन पहले अचनाक ट्विटर का लोगो बदले जाने पर यूजर्स हैरान रह गए थे और सभी एक-दूसरे से इस बदलाव को लेकर सवाल कर रहे थे। यूजर एक-दूसरे से पूछ रहे थे कि क्या सभी को लोगो पर डॉग दिखाई दे रहा है। देखते ही देखते ट्विटर पर डॉज ट्रेंड करने लगा था। कुछ लोगों को लग रहा था कि किसी ने ट्विटर को हैक कर लिया है। हालांकि कुछ देर में ही एलन मस्क ने एक ट्वीट किया, जिससे साफ हो गया कि ट्विटर हैक नहीं हुआ है, बल्कि उसका लोगो बदल दिया गया है। हालांकि, अब एक बार फिर नीली चिड़िया की वापसी हो गई है।

ट्विटर का मालिक बनने के बाद से मस्क लगातार चौंकाने वाले और विवादित फैसले ले रहे हैं। मस्क ने 27 अक्टूबर 2022 को 44 बिलियन डॉलर में ट्विटर खरीदते ही सीईओ पराग अग्रवाल समेत कंपनी के चार शीर्ष अधिकारियों को निकाल दिया था। इसके बाद कई अन्य अफसरों को बाहर करने के साथ मस्क ने ट्विटर के कर्मचारियों में से 50% से ज्यादा को निकाल दिया औऱ बचे हुओं को अल्टीमेटम दे दिया। इसके बाद मस्क ने अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का ट्विटर अकाउंट बहाल कर दिया था। मस्क ने जो सबसे बड़ा फैसला लिया वह ट्विटर पर ब्लू टिक, यानी वेरिफाइड अकाउंट्स के लिए यूजर से हर महीने पैसे लेने का फैसला है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;