बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय के वीडयो को ट्विटर ने बताया 'मैनिपुलेटेड मीडिया'

सत्तारूढ़ बीजेपी की आईटी सेल किस तरह तमाम भ्रामक बातें और वीडियो शेयर करती है, यह जगजाहिर है। अब ट्विटर बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय के ट्वीट को रेड फ्लैग करते हुए 'मैनिपुलेटेड मीडिया' करार दिया है।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

आईएएनएस

ट्विटर ने बुधवार को बीजेपी आईटी सेल के प्रभारी अमित मालवीय द्वारा पोस्ट एक वीडियो को मैनिपुलेटेड करार दे दिया। वीडियो में एक पुलिसकर्मी एक बुजुर्ग को लाठी दिखाते नजर आ रहा है। मालवीय ने कुछ दिनों पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर चुटकी लेने के लिए एक क्लिप पोस्ट किया था, जिसमें उन्हें 'सबसे बदनाम भारतीय विपक्षी नेताओं में से एक' कहा गया था।

28 नवंबर को, मालवीय ने कांग्रेस नेता के एक ट्वीट को उद्धृत किया था और कहा था, "राहुल गांधी को सबसे बदनाम विपक्षी नेता कहा जाना चाहिए, जिन्हें भारत ने लंबे समय से देखा है।"

बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय के वीडयो को ट्विटर ने बताया 'मैनिपुलेटेड मीडिया'

मालवीय ने 'प्रोपेगैंडा वर्सेस रियलिटी' के उपशीर्षक के साथ वीडियो क्लिप भी अटैच किया, जिसमें दावा किया गया कि पुलिसकर्मी ने किसान को छुआ तक नहीं। हालांकि, घटना की और क्लिप्स से पता चला कि किसानों को अर्धसैनिक बलों द्वारा मारा गया था, जब वे दिल्ली-हरियाणा सीमा पर आंदोलन कर रहे थे।


ट्विटर की सिंथेटिक और मैनिपुलेटेड मीडिया नीति के अनुसार, ट्विटर ने अपने मंच पर पोस्ट की गई सामग्री को रेड-फ्लैग कर देता है यदि वे भ्रामक होती है या तोड़-मोरड़कर पेश की गई होती है। राहुल गांधी ने 28 नवंबर को हिंदी में एक ट्वीट में कहा था, "यह बहुत दुखद तस्वीर है। हमारा नारा है 'जय जवान जय किसान' लेकिन आज प्रधानमंत्री (नरेंद्र) मोदी के अहंकार ने किसान के खिलाफ जवान को खड़ा कर दिया। यह बहुत खतरनाक है।"

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia