कंगना रनौत का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड, नफरत फैलाने और हिंसा भड़काने वाले किए थे विवादित पोस्ट, एफआईआर भी दर्ज

विवादित अभिनेत्री कंगना रनौत का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड कर दिया गया है। उन्होंने पश्चिम बंगाल चुनाव के दौरान और बाद में कई विवादित ट्वीट किए थे। उधर कोलकाता में कंगना के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज हुई है।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

ट्विटर ने अभिनेत्री कंगना रनौत का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड कर दिया है। ट्विटर ने बताया है कि कंगना ने ट्विटर प्लेटफॉर्म के नियमों का उल्लंघन किया है। कंगना ने दरअसल पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों के नतीजे आने के बाद कई विवादित ट्वीट्स किए थे। इसे लेकर उनके ऊपर केस भी दर्ज हुआ है।

कंगना रनौत का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड, नफरत फैलाने और हिंसा भड़काने वाले किए थे विवादित पोस्ट, एफआईआर भी दर्ज

कंगना रनौत ने एक ट्वीट में सन 2000 के दशक की याद दिलाते हुए पश्चिम बंगाल के लोगों को सबक सिखाने की बात कही थी। ध्यान रहे कि 2000 के दशक की सबसे भयावह घटना गुजरात दंगे हैं जिसमें हजारों लोगों की जान गई थी। कंगना ने अपने ट्वीट में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की तरफ इशारा करते हुए उन्हें दैत्य करार दिया था। उन्होंने कहा था कि गुंडई का जवाब देने के लिए सुपर गुंडई की जरूरत है। साथ ही कहा था कि "मोदी जी उन्हें काबू में करने के लिए अपना 2000 के दशक वाला विराट स्वरूप दिखाएं।" कंगना ने इस ट्वीट के साथ ही बंगाल में राष्ट्रपति शासन की मांग भी की थी।

कंगना रनौत का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड, नफरत फैलाने और हिंसा भड़काने वाले किए थे विवादित पोस्ट, एफआईआर भी दर्ज

इस बीच विवादित ट्वीट के बाद कंगना के ऊपर केस भी दर्ज हुआ है। कोलकाता पुलिस ने कंगना रनौत के खिलाफ पश्चिम बंगाल के लोगों की भावनाएं आहत करने के आरोप में शिकायत दर्ज की है। एडवोकेट सुमीत चौधरी ने ईमेल के जरिए कोलकाता पुलिस कमिश्नर सौमेन मित्रा को शिकायत भेजी थी। अपने मेल में उन्होंने कंगना रनौत के ट्वीट के तीन लिंक्स भी भेजे हैं। इसमें आरोप लगाया गया है कि उन्होंने बंगाल के लोगों की भावनाओं को आहत और उन्हें अपमानित भी किया है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय