न्यूजक्लिक के प्रधान संपादक प्रबीर पुरकायस्थ समेत दो गिरफ्तार, लंबी पूछताछ के बाद बाकी पत्रकारों को छोड़ा गया

बताया जा रहा है कि उर्मिलेश, परंजॉय गुहा ठाकुरता, अभिसार शर्मा, संजय राजौरा समेत संस्था से जुड़े बाकी पत्रकारों को लंबी पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया है। इससे पहले दिन भर की छापेमारी के बाद शाम में दिल्ली स्थित न्यूजक्लिक के दफ्तर को भी सील कर दिया गया।

न्यूजक्लिक के प्रधान संपादक प्रबीर पुरकायस्थ समेत दो गिरफ्तार
न्यूजक्लिक के प्रधान संपादक प्रबीर पुरकायस्थ समेत दो गिरफ्तार
user

नवजीवन डेस्क

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने न्यूजक्लिक से जुड़े पत्रकारों और लेखकों पर सुबह से छापेमारी और लंबी पूछताछ के बाद संस्थान के प्रधान संपादक प्रबीर पुरकायस्थ और एचआर हेड अमित चक्रवर्ती को यूएपीए के तहत दर्ज केस में गिरफ्तार कर लिया है। इससे पहले दिन भर की छापेमारी के बाद शाम में दिल्ली स्थित न्यूजक्लिक के दफ्तर को भी सील कर दिया गया।

दिल्ली पुलिस ने एक बयान में कहा कि स्पेशल सेल में दर्ज यूएपीए मामले के संबंध में आज की गई तलाशी, जब्ती और हिरासत के संबंध में, अब तक दो आरोपियों, प्रबीर पुरकायस्थ और अमित चक्रवर्ती को गिरफ्तार किया गया है। परिसर में कुल 37 पुरुष संदिग्धों से पूछताछ की गई है, 9 महिला संदिग्धों से उनके रहने के स्थानों पर पूछताछ की गई है और डिजिटल उपकरणों, दस्तावेजों आदि को जांच के लिए जब्त और एकत्रित किया गया है।

बताया जा रहा है कि उर्मिलेश, परंजॉय गुहा ठाकुरता, अभिसार शर्मा, संजय राजौरा समेत संस्था से जुड़े बाकी पत्रकारों को लंबी पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया है। न्यूज़क्लिक के सलाहकार के रूप में काम कर रहे पत्रकार परंजॉय गुहा ठाकुरता छोड़े जान के बाद कहा, सुबह 6:30 बजे नौ पुलिसकर्मी गुरुग्राम में मेरे घर आए। उन्होंने मुझसे कुछ प्रश्न पूछे। मैं स्वेच्छा से उनके साथ दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल में आया। सवालों का एक ही सेट बार-बार पूछा गया, क्या मैं न्यूज़क्लिक का कर्मचारी हूं तो मैंने कहा, 'नहीं, मैं एक सलाहकार हूं'। यहां आने के बाद मुझे पता चला कि गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम (यूएपीए) के तहत एक एफआईआर दर्ज की गई है।


इससे पहले मंगलवार तड़के दिल्ली पुलिस की स्पेशल से की कई टीमों ने एक साथ न्यूजक्लिक के दफ्तर और उससे जुड़े कई पत्रकारों के घरों पर 30 से अधिक स्थानों पर छापेमारी की। इनमें प्रबीर पुरकायस्थ, भाषा सिंह, अभिसार शर्मा, उर्मिलेश, परंजॉय गुहा ठाकुरता, संजय राजौरा, औनिंद्यो चक्रवर्ती, दिलीप शिमोन, इतिहासकार सोहेल हाशमी और डी रघुनंदन समेत कई पत्रकार शामिल हैं। इस छापेमारी के दौरान स्पेशल सेल पत्रकारों के घरों से इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्य, लैपटॉप, मोबाइल फोन, पेन ड्राइव और न्यूजक्लिक कार्यालय से हार्ड डिस्क के डेटा डंप जब्त करने के साथ ही कई पत्रकारों को भी अपने साथ ले गई।

सूत्रों के अनुसार, लोधी कॉलोनी में स्पेशल सेल पुलिस स्टेशन में पूछताछ के दौरान पुलिस ने उन्हें 25 सवालों की सूची सौंपी, जिसमें विभिन्न विषय जैसे उनकी अंतर्राष्ट्रीय यात्राएं, दिल्ली के शाहीनबाग में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन, उत्तर पूर्वी दिल्ली के दंगों और किसान आंदोलन में भागीदारी वगैरह से जुड़े सवाल शामिल थे।


सूत्र बताते हैं कि न्यूज़क्लिक से जुड़े विभिन्न स्थानों पर तलाशी 17 अगस्त को यूएपीए और भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 153 ए (शत्रुता को बढ़ावा देना) और धारा 120बी (आपराधिक साजिश) सहित अन्य धाराओं के तहत दर्ज एक मामले के आधार पर की गई। सूत्र के अनुसार एफआईआर में यूएपीए की धारा 16 (आतंकवादी अधिनियम), धारा 17 (आतंकवादी कृत्यों के लिए धन जुटाना), धारा 18 (साजिश) और धारा 22 सी (कंपनियों द्वारा अपराध) भी जोड़ी गई है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;