देश के 20 जवानों की शहादत पर जनरल वीके सिंह का बड़ा खुलासा! बताया- गलवान घाटी में उस रात क्यों हुई थी हिंसक झड़प

केंद्रीय मंत्री जनरल वीके सिंह ने बताया कि 15 जून की रात को गलवान घाटी में भारत और चीनी सैनिकों के बीच रहस्यमयी आग की वजह से हिंसक झड़प हुई थी। उन्होंने बताया कि यह आग चीनी सैनिकों के टेंट में लगी थी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

लद्दाख के गलवान घाटी में एलएसी के पास देश के 20 जवान कैसे शहीद हो गए थे? इस संबंध में पहली बार केंद्र की मोदी सरकार की ओर से बयान आया है। कांग्रेस समेत दूसरी विपक्षी पार्टियां लगातार यह सवाल पूछ रही थीं कि सरकार बताए कि आखिर हमारे जवान कैसे शहीद हुए। मीडिया से बात करते हुए इस सबंधं में केंद्रीय मंत्री जनरल वीके सिंह की ओर से बयान आया है। वीके सिंह ने बताया कि 15 जून की रात को गलवान घाटी में भारत और चीनी सैनिकों के बीच रहस्यमयी आग की वजह से हिंसक झड़प हुई थी। उन्होंने बताया कि यह आग चीनी सैनिकों के टेंट में लगी थी।

केंद्रीय मंत्री ने बताया कि भारत और चीन के बीच लेफ्टिनेंट जनरल स्तर पर बातचीत में यह फैसला हुआ था कि सीमा के पास कोई भी सैनिक मौजूद नहीं रहेगा। लेकिन जब 15 जून की शाम को हमारे कमांडिंग ऑफिसर सीमा पर चेक करने गए तो वहां देखा कि चीनी सैनिक वापस नहीं गए थे। वहां चीनी सैनिकों का तंबू मौजूद था। वीके सिंह ने बताया कि हमारे कमांडिंग ऑफिसर ने तंबू हटाने के लिए कहा। इस बीच जब चीनी सैनिक तंबू हटा रहे थे, तभी अचानक तंबू में आग लग गई। उन्होंने बताया कि आग लगने के बाद दोनों देशों के सैनिकों के बीच झड़प हो गई। वीके सिंह ने कहा कि भारतीय सैनिक चीनी सैनिकों पर हावी हो गए। इस दौरान चीन के 40 से ज्यादा सैनिक मारे गए।

गौरतलब है कि 15 से 16 जून की रात को भारत और चीनी सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प में कर्नल संतोष समेत भारत के 20 जवान शहीद हुए थे। इसके बाद ही यह दावा किया गया था कि इस झड़प में चीन के 43 सैनिक भी मारे गए थे। शुरुआत में यह बात सामने आई थी कि भारतीय सैनिकों ने चीन के टैंट में आग लगाई थी। हालांकि केंद्रीय मंत्री जनरल वीके सिंह ने यह सीधे तौर पर नहीं कहा कि आग भारतीय सैनिकों ने लगाई थी। उन्होंने इसे रहस्यमयी आग बताया है।

इससे पहले एक बयान में पीएम मोदी ने कहा था कि न तो हमारी सीमा में कोई आया है और न ही हमारा पोस्ट किसी के कब्जे में है। ऐसे में लगातार यह सवाल खड़े किए जा रहे थे कि आखिर हमारे 20 जवान कैसे शहीद हुए थे। इस सवाल पर लगातार मोदी सरकार चुप्पी साधे हुए थी। अब केंद्रीय मंत्री वीके सिंह का इस पर बयान आया है।

Published: 29 Jun 2020, 11:25 AM
लोकप्रिय