उन्नाव में दलित लड़कियों की मौत पर राहुल बोले- हम पीड़ितों के साथ, प्रियंका का सवाल, पीड़ित परिवार नजरबंद क्यों?

कांग्रेस नेता राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि हम पीड़ित परिवार के साथ हैं। राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि केवल दलित समाज को ही नहीं यूपी सरकार महिला सम्मान और मानवाधिकारों को भी कुचलती जा रही है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

विनय कुमार

यूपी के उन्नाव जिले में दो लड़कियों के शव और एक की हालत गंभीर होने के बाद हर कोई सकते में है। यूपी के एडीजी (कानून-व्यवस्था) ने कहा कि उन्नाव में 3 बच्चियों के बेहोश होने की सूचना मिली, 2 बच्चियों की मौत हो गई, एक बच्ची को कानपुर शिफ्ट किया है। ब​च्चियों के पोस्टमार्टम से जो तथ्य प्रकाश में आएंगे उस पर आगे कार्रवाई करेंगे। अभी परिजन जो बता रहे हैं हम उस पर कार्रवाई कर रहे हैं।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि हम पीड़ित के साथ है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि केवल दलित समाज को ही नहीं यूपी सरकार महिला सम्मान और मानवाधिकारों को भी कुचलती जा रही है। लेकिन वे याद रखें कि मैं और पूरी कांग्रेस पार्टी पीड़ितों की आवाज़ बनकर खड़े हैं और उन्हें न्याय दिलाकर ही रहेंगे।

वहीं प्रियंका गांधी ने इस घटना को दिल दहला देने वाली करार दिया और तीसरी लड़की को जल्द से जल्द दिल्ली शिफ्ट करने की बात की है। उन्होंने फेसबुक पर पर बयान जारी कर कहा कि उन्नाव की घटना दिल दहला देने वाली है। लड़कियों के परिवार की बात सुनना और तीसरी बच्ची को तुरंत अच्छा इलाज मिलना जांच- पड़ताल और न्याय की प्रक्रिया के लिए बेहद जरूरी है।

उन्नाव में दलित लड़कियों की मौत पर राहुल बोले- हम पीड़ितों के साथ, प्रियंका का सवाल, पीड़ित परिवार नजरबंद क्यों?

उन्होंने आगे लिखा, “खबरों के अनुसार पीड़ित परिवार को नजरबंद कर दिया गया है। यह न्याय के कार्य में बाधा डालने वाला काम है। आखिर परिवार को नजरबंद करके सरकार को क्या हासिल होगा। यूपी सरकार से निवेदन है कि परिवार की पूरी बात सुने और त्वरित प्रभाव से तीसरी बच्ची को इलाज के लिए दिल्ली शिफ्ट किया जाए।”

वहीं यूपी कांग्रेस ने ट्वीट करके कहा कि यूपी में कानून व्यवस्था पूरी तरह से तहस-नहस हो चुकी है। एक बार फिर उन्नाव की घटना ने पूरे देश को शर्मसार किया।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 18 Feb 2021, 1:28 PM
लोकप्रिय