उन्नाव गैंगरेप केस: बीजेपी विधायक का भाई मारपीट में गिरफ्तार, लेकिन बलात्कार आरोपी विधायक पर एक्शन नहीं

उत्तर प्रदेश पुलिस ने उन्नाव गैंगरेप के आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर के भाई अतुल सिंह सेंगर को गिरफ्तार किया है। उसे बलात्कार पीड़िता के पिता की पिटाई के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश में जिस बीजेपी विधायक पर बलात्कार का आरोप लगा है, पुलिस ने उसका नाम एफआईआर तक में दर्ज नहीं किया है। इस तरह उसके खिलाफ अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। लेकिन उसके भाई अतुल सेंगर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। लेकिन उस पर सिर्फ मारपीट का मामला ही दर्ज है। गौरतलब है कि बलात्कार पीड़िता के पिता की पुलिस हिरासत में मौत हो गई थी। पुलिस की इस कार्रवाई से स्पष्ट होता है कि न सिर्फ आरोपियों को बचाने की कोशिश हो रही है, बल्कि कानून की धज्जियां भी उड़ाई जा रही हैं।

इस मामले में उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने एक बयान में कहा कि बीजेपी विधायक के भाई अतुल सिंह के खिलाफ मारपीट के सबूत मिले हैं। इसीलिए उन्हें गिरफ्तार किया गया है। लेकिन उन्होंने विधायक के बारे में कुछ नहीं बोला।

डीजीपी ने कहा है कि यूपी पुलिस ने कोई लापरवाही नहीं की है। जिन पांच पुलिसकर्मियों की लापरवाही सामने आई थी उन्हें सस्पेंड किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि लखनऊ क्राइम ब्रांच मामले की जांच कर रही है और जो भी दोषी सामने आएंगे, उन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

इस बीच बलात्कार पीड़िता ने कहा है कि अभी तक कुलदीप सिंह को गिरफ्तार नहीं किया गया है। उसने कहा कि, “इन लोगों ने मेरा जीना हराम कर दिया है। इन्होंने मेरे पिता को मार दिया। मैं इंसाफ चाहती हूं। मैं चाहती हूं कि इन्हें फांसी हो।”

गौरतलब है कि उन्नाव के बांगरमऊ से बीजेपी विधायक कुल्दीप सिंह सेंगर पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली महिला के पिता की सोमवार तड़के जेल में मौत हो गई थी। पीड़ित परिवार ने विधायक और उसके भाई पर मारपीट का आरोप लगाते हुए कहा था कि उनकी पिटाई से ही पिता की मौत हुई है। इससे पहले महिला ने रविवार को लखनऊ में मुख्यमंत्री आवास के बाहर परिवार सहित खुदकुशी की कोशिश की थी।

आरोप है कि विधायक और उसका भाई पीड़िता पर केस वापस लेने का दबाव बना रहे थे। ऐसा न करने पर पीड़िता के पिता को 3 अप्रैल को जमकर पीटा था। पीड़ित परिवार ने ये भी आरोप लगाया था कि मारपीट करने वाले अतुल सिंह के खिलाफ शिकायत की गई तो पुलिस ने पिटने वाले पिता को ही जेल में डाल दिया

लोकप्रिय