उन्नाव रेप पीड़िता के साथ हुए सड़क हादसे का वीडियो, घायलों को बचाने की कोशिश में लोग

उन्नाव रेप पीड़िता के साथ हुए सड़क हादसे का एक वीडियो सामने आया है। यह वीडियो हादसे के तुरंत बाद का है। इस वीडियो में पीड़िता और उसके परिवार वाले गाड़ी के अंदर घायल अवस्था में पड़े दिख रहे हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

उन्नाव रेप पीड़िता के साथ हुए सड़क हादसे का एक वीडियो सामने आया है। यह वीडियो हादसे के तुरंत बाद का है। इस वीडियो में पीड़िता और उसके परिवार वाले गाड़ी के अंदर घायल अवस्था में पड़े दिख रहे हैं। कुछ लोग दौड़ते हुए गाड़ी के पास जाकर एंबुलेंस और पुलिस बुलाने की बात कर रहे हैं। घटना के तुरंत बाद लोग गाड़ी के पास पहुंच कर पीड़िता और उसके परिजनों को बचाने की कोशिश कर रहे हैं। एक शख्स गाड़ी खोलकर उन्हें बाहर निकालने को कह रहा है। शख्स कहता है कि पुलिस से मैं बात कर लुंगा इन्हें जल्दी से बाहर निकालो। लोग हादसे में घायल रेप पीड़िता और परिजनों को जल्द से जल्द अस्पताल पहुंचने की कोशिश करते दिख रहे हैं।

बता दें कि उत्तर प्रदेश के उन्नाव में 2017 में हुए एक गैंगरेप की पीड़िता रविवार को एक सड़क हादसे में बुरी तरह घायल हो गई थी। हादसे में उसकी मां, मौसी और कार चालक की मौत हो गई है। पीड़ित और उसके वकील की हालत गंभीर है। उनका इलाज लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज और हॉस्पिटल के ट्रॉमा सेंटर में चल रहा है। ट्रॉमा सेंटर के मीडिया इंचार्ज संदीप तिवारी के मुताबिक पीड़िता के पैर में फ्रैक्चर है और सिर में गंभीर चोट आई है। पीड़िता और वकील को वेंटिलेटर पर रखा गया है। दोनों की हालत नाजुक है लेकिन स्थिर बनी हुई है।

इस घटना को लेकर सवाल उठने लगे हैं और कई लोग इसे पीड़िता की हत्या की साजिश कह रहे हैं। समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव, दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और बीएसपी चीफ मायावती ने सीधे-सीधे आरोप लगाया है कि ये पीड़िता की हत्या की साजिश हो सकती है। अखिलेश यादव ने मांग की है कि इस मामले की जांच सीबीआई को सौंपी जानी चाहिए। पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने भी इस मामले में उच्च स्तरीय जांच की मांग की है।

पिछले साल पीड़िता ने आरोप लगाया था कि उन्नाव के बांगरमऊ से बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने उसके साथ चार जून, 2017 को अपने आवास पर दुष्कर्म किया था। पीड़िता वहां अपने एक रिश्तेदार के साथ उनसे नौकरी मांगने के लिए गई थी। पीड़िता उस वक्त नाबालिग थी। कुलदीप के खिलाफ आईपीसी की धारा 363, 366, 376, 506 और पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज है। यूपी सरकार ने पूरे मामले की जांच सीबीआई से कराने की सिफारिश की थी, जिसे मंजूर कर लिया गया। फिलहाल सेंगर कई महीनों से सीतापुर जेल में बंद है।

Published: 30 Jul 2019, 1:31 PM
लोकप्रिय