यूपीः गिरफ्तार गुर्जर नेताओं ने पुलिस लाइन में लगाई पंचायत, बीजेपी के बहिष्कार का किया ऐलान, देखती रह गई योगी सरकार

प्रस्तावों को लागू करने के लिए एक राष्ट्रीय गुर्जर स्वाभिमान समिति का भी गठन किया गया जिसमें अंतराम तंवर, रणवीर चंदीला, डॉक्टर रूप सिंह, बीजेपी नेता मुखिया गुर्जर, राजकुमार भाटी, बाबू सिंह आर्य, रविंद्र भाटी, नरेंद्र गुर्जर आदि लोगो को शामिल किया गया है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी के दादरी दौरे से राजा मिहिर भोज की जाति पर उठे विवाद से नाराज गुर्जरों द्वारा आज बुलाई गई पंचायत को रोकने के लिए यूपी पुलिस ने पूरा जोर तो लगा दिया, लेकिन उन्हें पंचायत से नहीं रोक पाई। सैकड़ों की संख्या में गिरफ्तार कर पुलिस लाइन लाए गए गुर्जर नेताओं ने पुलिस लाइन में ही पंचायत कर अपनी ताकत दिखा दी।

इस पंचायत में सर्वसम्मति से तीन प्रस्ताव पास किए गएl इन प्रस्तावों में गुर्जर नेताओं ने दादरी में लगी राजा मिहिर भोज की प्रतीमा को गंगाजल से धोकर पवित्र करने और बीजेपी का पूरी तरह से बहिष्कार करने का ऐलान किया है। पुलिस लाइन में हुई गुर्जर पंचायत में निम्न प्रस्ताव पारित किए गएः

  • मिहिर भोज कॉलेज में लगी गुर्जर सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा को गंगाजल से धोकर पवित्र किया जाएगा

  • प्रतिमा पर लगे शिलापट्ट को हटाकर दूसरा शिलापट लगाया जाएगा, जिस पर लिखा होगा गुर्जर सम्राट मिहिर भोज

  • आगामी विधानसभा चुनाव में गुर्जर समाज बीजेपी का बहिष्कार करेगा


इन तीनों प्रस्तावों को लागू करने के लिए एक राष्ट्रीय गुर्जर स्वाभिमान समिति का भी गठन किया गया जिसमें मुख्य रूप से अंतराम तंवर, रणवीर चंदीला, डॉक्टर रूप सिंह, बीजेपी नेता मुखिया गुर्जर, राजकुमार भाटी, बाबू सिंह आर्य, रविंद्र भाटी, नरेंद्र गुर्जर, डॉक्टर महेंद्र नागर, श्याम सिंह भाटी, प्रदीप वर्मा आदि लोगो को सम्मलित किया गया है।

बता दें कि सीएम योगी के हालिया दादरी दौरे से राजा मिहिर भोज की जाति पर उठे विवाद से नाराज गुर्जरों ने रविवार को दादरी के मिहिर भोज कॉलेज में एक सभा बुलाई थी, लेकिन नोएडा प्रशासन ने अंतिम समय में अनुमति नहीं दी। इससे नाराज गुर्जरों ने चिठहेरा गांव में पंचायत बुलाने का ऐलान कर दिया। इस पर पुलिस ने गांव को घेर लिया और कई गुर्जर नेताओ को हिरासत में ले लिया और उन्हें पुलिस लाइन ले गई। लेकिन गुर्जर नेताओं ने पुलिस हिरासत में ही पुलिस लाइन में पंचायत की और सर्वसम्मति से बीजेपी के खिलाफ प्रस्ताव पास किया।

(जावेद छौलसी के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia