यूपी चुनावः अखिलेश ने लिया अन्न संकल्प, बोले- 'जिन्होंने किसानों को कुचला, उन्हें सत्ता से करेंगे बाहर'

अखिलेश यादव ने कहा कि सत्ता में आने पर किसानों पर दर्ज किए गए सभी मुकदमे वापस लिए जाएंगे और जिन किसानों ने आंदोलन के दौरान जान गंवाई, उनके परिजनों को 25 लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सपा हर वो काम करेगी जिससे किसानों में खुशहाली आए।

फोटोः @yadavakhilesh
फोटोः @yadavakhilesh
user

नवजीवन डेस्क

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव सोमवार को पार्टी कार्यालय में किसानों की मौजूदगी में हाथ में गेहूं और चावल लेकर संकल्प लिया है कि जिन लोगों ने किसानों को गाड़ी से कुचला उन्हें सत्ता से बेदखल करेंगे। किसानों पर अत्याचार करने वालों को हराएंगे।

अखिलेश यादव ने वादा किया कि प्रदेश में सपा सरकार आई तो सभी फसलों पर न्यूनतम समर्थन मूल्य दिया जाएगा। गन्ना किसानों को 15 दिन में भुगतान किया जाएगा। जरूरत पड़ी तो इसके लिए 'फार्मर्स रिवॉल्विंग फंड' बनाएंगे। इसी तरह 300 यूनिट बिजली फ्री होगी और मुफ्त सिंचाई की सुविधा मिलेगी।

अखिलेश यादव ने कहा कि सत्ता में आने पर किसानों पर दर्ज किए गए सभी मुकदमे वापस लिए जाएंगे और जिन किसानों ने आंदोलन के दौरान जान गंवाई, उनके परिजनों को 25 लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सपा हर वो काम करेगी जिससे किसानों में खुशहाली आए।

सपा मुखिया ने कहा कि बीजेपी को बताना चाहिए कि किसानों की आय दोगुनी क्यों नहीं हुई। उन्होंने वादा किया था कि 2022 में किसानों की आय दोगुनी हो जाएगी पर अब तक नहीं हुई, बल्कि डीजल-पेट्रोल के दाम बढ़ा दिए गए। खाद समय से नहीं मिल रही है। किसान परेशान हैं और जिन लोगों ने किसानों को कुचलकर मार दिया उन्हें संरक्षण दिया। उन्होंने सपा कार्यकर्ताओं से भी अपील की है कि अन्न संकल्प लें और बीजेपी को सत्ता से हटा दें।


अखिलेश यादव ने कहा कि लखीमपुर खीरी हिंसा में तेजिन्दर सिंह विर्क को भी गाड़ी से कुचलने का प्रयास किया गया है। हमारी सरकार बनने पर हम इनका सम्मान करेंगे। इसके साथ ही किसानों के खिलाफ दर्ज सभी केस को वापस लेंगे। उन्होंने कहा कि हम तो किसानों को सिंचाई के लिए बिजली मुफ्त करने के साथ ही साथ ब्याज मुक्त लोन तथा किसानों के लिए बीमा एवं पेंशन की व्यवस्था भी करेंगे।

अखिलेश ने कहा कि किसानों ने संघर्ष किया और अन्याय के खिलाफ लड़े। सरकार को इसके बाद किसानों की बात माननी पड़ी। हम तो किसानों पर अन्याय और अत्याचार करने वालों को हराएंगे और हटाएंगे। लखीमपुर के किसान नेता तेजिंदर सिंह विर्क ने अखिलेश यादव को अन्न संकल्प दिलाया। सपा मुखिया ने संकल्प लेने के बाद कहा कि उत्तर प्रदेश चुनाव के लिए बड़े-बड़े षडयंत्र और साजिशें की जा रही हैं। हमारे परिवार की हमसे ज्यादा चिंता भाजपा को है। हमारा घोषणा पत्र भाजपा के घोषणा पत्र के बाद आएगा।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia