यूपी चुनाव: डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य की फजीहत! अपने निर्वाचन क्षेत्र में करना पड़ा विरोध का सामना, हुई नारेबाजी

खबरों के मुताबिक केशव प्रसाद मौर्य सिराथू सीट से प्रत्याशी घोषित होने के बाद पहली बार अपने संसदीय क्षेत्र में पहुंचे हैं। सिराथू विधानसभा क्षेत्र के गुलामीपुर गांव में उन्हें महिलाओं के विरोध का सामना करना पड़ा।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को उनके विधानसभा क्षेत्र सिराथू में उस समय विरोध का सामना करना पड़ा, जब वह वहां प्रचार करने गए थे। शनिवार को हुई इस घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

वीडियो में मौर्य के खिलाफ नारेबाजी की जा रही है। महिलाएं दरवाजे बंद करती नजर आ रही हैं। इस बीच केशव प्रसाद मौर्य भी लोगों से चुप रहने को कहते नजर आ रहे हैं। बीजेपी ने इसे विपक्ष का प्रोपेगेंडा बताया है।

खबरों के मुताबिक केशव प्रसाद मौर्य सिराथू सीट से प्रत्याशी घोषित होने के बाद पहली बार अपने संसदीय क्षेत्र में पहुंचे हैं। सिराथू विधानसभा क्षेत्र के गुलामीपुर गांव में उन्हें महिलाओं के विरोध का सामना करना पड़ा।

सिराथू में जिला पंचायत सदस्य के पति राजीव मौर्य के लापता होने और इस मामले में पुलिस की निष्क्रियता से महिलाएं कथित तौर पर नाराज हैं। राजीव मौर्य पिछले एक हफ्ते से लापता हैं। केशव प्रसाद मौर्य शनिवार को अपने परिवार वालों से मिलने गए थे। उपमुख्यमंत्री ने अब पुलिस को राजीव को जल्द से जल्द खोजने के लिए एक विशेष टीम गठित करने का निर्देश दिया है।


विपक्ष का दावा है कि विरोध केशव प्रसाद मौर्य और उत्तर प्रदेश सरकार के काम के प्रति लोगों की नाराजगी की अभिव्यक्ति है। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता आई.पी. सिंह ने वीडियो ट्वीट कर लिखा, 'पहले कुर्सी खतरे में आई, अब स्टूल भी खतरे में है।'

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 23 Jan 2022, 12:50 PM