कोरोना के ओमिक्रॉन वेरिएंट से देश में दहशत!अलर्ट मोड पर राज्य सरकारें

कोरोना वायरस के नए स्वरूप ओमिक्रॉन को देखते हुए राज्य सरकारें अलर्ट मोड पर आ गई हैं। प्रदेश में इस नए वेरिएंट को लेकर सभी जिलों में विदेश से आने वालों की पड़ताल का निर्देश भी दिए गए हैं।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

आईएएनएस

कोरोना वायरस के नए स्वरूप ओमिक्रॉन को देखते हुए राज्य सरकारें अलर्ट मोड पर आ गई हैं। प्रदेश में इस नए वेरिएंट को लेकर सभी जिलों में विदेश से आने वालों की पड़ताल का निर्देश भी दिए गए हैं। उत्तर प्रदेश सरकार के अलर्ट जारी करने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने एयरपोर्ट पर सख्ती बढ़ा दी गई है, जिसके चलते यात्रियों की एयरपोर्ट पर नि:शुल्क आरटीपीसीआर की जांच की जाएगी।

स्टेट सर्विलांस ऑफिसर विकास इंदु अग्रवाल ने बताया कि प्रदेश के 75 जिलों के डीएसओ, सीएमओ, डीआईओ और विशेषज्ञों संग एक अहम बैठक की गई है। प्रदेश सरकार की ओर से इस बैठक में अधिकारियों को दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार ने डेली मॉनीटरिंग को बढ़ाने के आदेश दिए हैं। विदेश से लौटे यात्रियों में 14 दिन के भीतर लक्षण दिखने पर उनकी जांच की जाएगी। इसके साथ ही पहले से सक्रिय सर्विलांस टीमें और भी तेजी से काम करेंगी। कोरोना की पहली और दूसरी लहर के बाद इस नए वेरिएंट का सामना करने के लिए यूपी पूरी तौर पर तैयार है। इसके साथ ही कोरोना प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन कराने के आदेश भी जारी किए गए हैं।


24 करोड़ वाली आबादी वाले प्रदेश में नए वेरिएंट को लेकर हर एक चरण पर प्रदेश सरकार सर्तकता बरत रही है। एयरपोर्ट पर अब जांच और स्क्रीनिंग का दायरा बढ़ाया जाएगा। विदेश से आने वाले यात्रियों की जांच और स्क्रीनिंग अब और तेजी से किए जाने के निर्देश प्रदेश सरकार ने जारी किए हैं। इसके साथ ही अब विदेश से लौटे यात्री 15 दिन स्वास्थ्य विभाग के संपर्क में रहेंगे।

नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के चलते प्रदेश सरकार ने आगरा, प्रयागराज, वाराणसी, लखनऊ और कानपुर में बड़ी संख्या में आने वाले विदेशियों पर नजर रखने के निर्देश दिए हैं। अधिकारी लगातार इसको लेकर जिलों से सम्पर्क में हैं। जिलों से कोविड की स्थिति के साथ वहां पर टीका की पहली और दूसरी डोज का लाभ लेने वालों की सूची मांगी गई है। पहले और मौजूदा हालात और उसके आगे की योजनाओं के मद्देनजर वरिष्ठ अधिकारियों से प्लान भी मांगा गया है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia