यूपी: जीआरपी के हेड कांस्टेबल ने की आत्महत्या, सर्विस रिवाल्वर से खुद को मारी गोली?

सरकारी रेलवे पुलिस (जीआरपी) के एक हेड कांस्टेबल ने यहां जीआरपी प्रयागराज पुलिस लाइन के शौचालय में अपने सर्विस हथियार से खुद को गोली मारकर कथित तौर पर आत्महत्या कर ली।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

सरकारी रेलवे पुलिस (जीआरपी) के एक हेड कांस्टेबल ने यहां जीआरपी प्रयागराज पुलिस लाइन के शौचालय में अपने सर्विस हथियार से खुद को गोली मारकर कथित तौर पर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी। यह घटना सोमवार को हुई। कांस्टेबल की पहचान 35 वर्षीय चिंतामणि यादव के रूप में हुई है, जो जीआरपी कानपुर में तैनात था और अजमेर-सियालदह एक्सप्रेस ट्रेन में एस्कॉर्ट ड्यूटी पर प्रयागराज आया था।

उसके पास से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है। मृतक के इतना बड़ा कदम उठाने के कारणों का अभी पता नहीं चल पाया है। पुलिस ने बताया कि शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है। पुलिस ने कहा कि जीआरपी पुलिस लाइन के कुछ पुलिसकर्मियों ने दो गोलियों की आवाज सुनी थी और वहां पहुंचने पर उन्होंने हेड कांस्टेबल को खून से लथपथ देखा। वे उसे अस्पताल ले गए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।


डिप्टी एसपी (जीआरपी) अमित श्रीवास्तव ने कहा, "जीआरपी कानपुर में तैनात मृतक हेड कांस्टेबल रविवार को प्रयागराज आया था क्योंकि उसे अजमेर-सियालदह एक्सप्रेस ट्रेन में एस्कॉर्ट ड्यूटी दी गई थी। उसे सोमवार को उसी ट्रेन में एस्कॉर्ट ड्यूटी पर कानपुर लौटना था। वह जीआरपी प्रयागराज पुलिस लाइन के बैरक नंबर दो में रह रहा था।" पुलिस ने कहा कि यादव 2005 में एक कांस्टेबल के रूप में पुलिस बल में शामिल हुए थे।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia