यूपी: BJP सांसद के सामने भरी सभा में बुजुर्ग महिला ने PM आवास योजना में भ्रष्टाचार की खोल दी पोल, सभी रह गए दंग!

यह मामला उत्तर प्रदेश के बदायूं का है, और भ्रष्टाचार का मामला पीएम आवास योजना से जुड़ा है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद अपनी सभाओं में भ्रष्ट्राचार मुक्त शासन को लेकर बड़ी-बड़ी बातें करते रहते हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्यतमंत्री योगी आदित्यनाथ भी इस मुद्दे पर अपनी पीठ जमकर थपथपाते हैं। लेकिन बीजेपी शासित उत्तर प्रदेश में भ्रष्टाचार मुक्त शासन की हकीकत क्या है इसकी कलई एक बुजुर्ग महिला ने बीजेपी सांसद के सामने भरी सभा में खोल दी है।

यह मामला उत्तर प्रदेश के बदायूं का है, और भ्रष्टाचार का मामला पीएम आवास योजना से जुड़ा है। दरअसल बदायूं में 'विकसित भारत संकल्प यात्रा' का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, बीजेपी सांसद धर्मेंद्र कश्यप एक महिला लाभार्थी को 'पीएम आवास योजना' के तहत घर की चाबी सौंप रहे हैं। चाबी सौंपते हुए सांसद ने बुजुर्ग महिला से पूछा कि किसी ने आपसे पैसे (घूस) तो नहीं लिए? इसपर महिला ने भरी सभा में माइक पर ही कह दिया कि हां लिए हैं, 30 हजार रुपये।

बुजुर्ग महिला लाभार्थी का नाम शारदा देवी है। वह उसावां नगर पंचायत की रहने वाली हैं। महिला को आंवला से बीजेपी सांसद धर्मेंद्र कश्यप 'पीएम आवास योजना' की चाबी सौंप रहे थे। इस दौरान वह सभी लाभार्थियों से उनका अनुभव और भावनाएं जानने की कोशश कर रहे थे। इसी दौरान बुगुर्ज शारदा देवी को जब उन्होंने चाबी आवास की चाबी सौंपी और पूछा कि आपसे किसी ने पैसे तो नहीं लिए? इसी सवाल के जवाब में शारदा देवी ने कहा कि हां, आवास दिलवाने के नाम पर उनसे 30 हजार रुपये लिए गए हैं।

भरी सभा में सभी के सामने भ्रष्टाचार का मामला सामने आने के बाद बीजेपी सांसद ने कहा कि यह बहुत गंभीर मामला है। इसको दिखवाइएं। भ्रष्टाचार का मामला सामने आने के बाद बीजेपी सरकार की किरकिरी हो रही है। वहीं इस मामले में बीजेपी जिलाध्यक्ष राजीव गुप्ता ने कहा कि सांसद महोदय को चाबी सौंपते समय जब बुजुर्ग महिला ने पैसे की बात कही, यह हमारे लिए बहुत गंभीर विषय है। उन्होंने कहा कि हमने तुरंत पूरा प्रकरण जिलाधिकारी के संज्ञान में डाला  दिया है और इस प्रकरण की गहन जांच कराने के लिए कहा गया है।


वहीं, जिलाधिकारी बदायूं मनोज कुमार ने बताया कि मेरे संज्ञान में यह मामला आया है, मैंने इस मामले की जांच अपर जिलाधिकारी प्रशासन वी के सिंह को सौंपी दी है। जल्द से जल्द जांच रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा गया है। 

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 19 Jan 2024, 12:44 PM
;