यूपीः फर्रुखाबाद में शख्स ने 20 बच्चों को बनाया बंधक, पुलिस पर फायरिंग, एनएसजी की टीम दिल्ली से रवाना

आरोपी शख्स की पहचान सुभाष बाथम के रूप में हुई है, जो एक हत्या के मामले का आरोपी बताया जा रहा है और फिलहाल जमानत पर है। आरोपी रह-रहकर घर के अंदर से फायरिंग कर रहा है, जिसमें 3 पुलिस वालों समेत 4 लोग घायल हो गए हैं। पुलिस ने घर को चारों ओर से घेर लिया है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद में हथियारों से लैस एक शख्स ने करीब 20 बच्चों और महिलाओं को अपने घर के अंदर बंधक बना लिया है। आरोपी शख्स की पहचान सुभाष बाथम के रूप में हुई है, जो एक हत्या के मामले का आरोपी बताया जा रहा है और फिलहाल जमानत पर है। आरोपी रह-रहकर घर के अंदर से फायरिंग कर रहा है, जिसमें एक ग्रामीण को गोली लगी है। बताया जा रहा है कि इस दौरान आरोपी ने अंदर से ग्रेनेड भी फेंका है, जिसमें 3 पुलिस वालों समेत 4 लोग घायल हो गए हैं। फिलहाल पुलिस ने आरोपी के घर को चारों ओर से घेर लिया है। स्थिति की गंभीरता को देखते हुए दिल्ली से एनएसजी की टीम मौके के लिए रवाना कर दी गई है।

फर्रुखाबाद में मोहम्मदाबाद के कठरिया गांव में बच्चों और महिलाओं को बंधक बनाए जाने की खबर मिलने के बाद घटनास्थल पर पहुंचे फर्रुखाबाद के डीएम और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अन्य अधिकारियों के साथ आरोपी से बातचीत करने की कोशिश कर रहे हैं। फिलहाल मौके पर उत्तर प्रदेश पुलिस की क्यूआरटी, एसओजी और एटीएस की टीमें भी मौजूद हैं और दिल्ली से एनएसजी की टीम घटनास्थल के लिए रवाना हो गई है। लेकिन अधिकारी बच्चों को देखते हुए बड़ी कार्रवाई से बच रहे हैं और उससे बात कर उसकी मांग के बारे में जानने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन अब तक उसने कुछ भी नहीं बताया है।

घटना सामने आने के बाद राजधानी लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाई और अधिकारियों को कई निर्देश दिए। इस बैठक में प्रदेश के मुख्य सचिव के साथ डीजीपी, गृह विभाग के प्रधान सचिव, एडीजी लॉ एंड ऑर्डर मौजूद थे। उच्चाधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि बच्चों की कुशलता को ध्यान में रखते हुए कार्रवाई करें। इसके बाद यूपी सरकार ने केंद्र से एनएसजी की मांग की, जिसे स्वीकार करते हुए एनएसजी की एक टीम को रवाना कर दिया गया है।

बता दें कि मिली जानकारी के अनुसार बच्चों और महिलाओं को बंधक बनाने वाले शख्स का नाम सुभाष बाथ है और वह पहले से अपराधी है। उसके खिलाफ कई मामले भी दर्ज हैं। घटना के बारे में बताया जा रहा है कि बेटी की बर्थडे पार्टी के बहाने उसने आसपास के कई बच्चों को पहले घर बुलाया और फिर उन्हें घर के बेसमेंट में बंद कर दिया। पुलिस ने जब उसके एक रिश्तेदार को बातचीत के लिए घर के करीब भेजा तो उस व्यक्ति ने रिश्तेदार पर भी गोली चला दी, जिससे वह घायल हो गया। आरोपी के हमले में अब तक एक इंस्पेक्टर, दो सिपाही और एक स्थानीय शख्स घायल हुआ है।

लोकप्रिय
next