यूपी: PM के दौरे के दौरान हंगामा करने वालों की बुढ़ी मुश्किलें, 8 के खिलाफ पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट के तहत दर्ज किया केस

वायरल वीडियो के आधार पर पुलिस की जांच के दौरान यह सामने आया कि जिस दिन प्रधानमंत्री ने शहर का दौरा किया था, उस दिन जिस वाहन में तोड़फोड़ की गई थी, वह समाजवादी पार्टी के नेता अंकुर पटेल की थी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कानपुर पुलिस ने समाजवादी पार्टी के पांच पूर्व कार्यकर्ताओं और उनके तीन सहयोगियों के खिलाफ 28 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली के दौरान हंगामा करने की साजिश रचने के आरोप में गैंगस्टर एक्ट लगाया है। पुलिस आयुक्त असीम कुमार अरुण के आदेश पर अब तक की गई जांच और आरोपी के आपराधिक रिकॉर्ड को देखते हुए यह कार्रवाई की गई है।

वायरल वीडियो के आधार पर पुलिस की जांच के दौरान यह सामने आया कि जिस दिन प्रधानमंत्री ने शहर का दौरा किया था, उस दिन जिस वाहन में तोड़फोड़ की गई थी, वह समाजवादी पार्टी के नेता अंकुर पटेल की थी।


साजिश नौबस्ता के आवास विकास कॉलोनी निवासी सपा नेता सचिन केसरवानी ने रची थी। 28 दिसंबर को कानपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली के तुरंत बाद उसी दिन शाम को एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था। वीडियो में सपा कार्यकर्ताओं को एक चौपहिया वाहन के सामने तोड़फोड़ और पुतला फूंकते हुए देखा जा सकता है।

पुलिस ने अब तक अंकुर पटेल (सपा नेता), सचिन केसरवानी (सपा नेता), सुकांत शर्मा (सपा कार्यकर्ता), अभिषेक रावत (सपा कार्यकर्ता), निकेश कुमार यादव (सपा कार्यकर्ता) और अंश, जितेंद्र सहित आठ लोगों को गिरफ्तार किया है। इस संबंध में अरुण को जेल भेज दिया गया है। समाजवादी पार्टी ने मामले के पांचों आरोपियों को निष्कासित कर दिया है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia